विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

विकीलीक्स मामले में सजा काट रही ट्रांसजेंडर सैनिक चेल्सी मैनिंग जेल से रिहा

2010 में मैनिंग को गोपनीय सैन्य और राजनयिक दस्तावेज विकीलिक्स के जरिए लीक करने को लेकर गिरफ्तार किया गया था.

Bhasha Updated On: May 18, 2017 08:46 AM IST

0
विकीलीक्स मामले में सजा काट रही ट्रांसजेंडर सैनिक चेल्सी मैनिंग जेल से रिहा

अमेरिकी इतिहास में गोपनीय दस्तावेजों के एक सबसे बड़े लीक को लेकर कैद ट्रांसजेंडर सैनिक चेल्सी मैनिंग को सात साल की कैद के बाद बुधवार को जेल से रिहा कर दिया गया. अमेरिकी सेना की एक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी.

29 वर्षीय मैनिंग कंसास की अधिकतम सुरक्षा वाली जेल से बुधवार को बाहर आई. तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपना कार्यकाल पूरा होने से पहले उनकी सजा की अवधि कम कर दी थी.

कंसास स्थित फोर्ट लीवेनवर्थ की प्रवक्ता सिंथिया स्मिथ ने एक संक्षिप्त बयान में बताया कि मैनिंग को अमेरिकी डिसीपिलिनेरी बैरक से रिहा किया गया.

गौरतलब है कि जुलाई 2010 में मैनिंग को 7, 00,000 से अधिक गोपनीय सैन्य और राजनयिक दस्तावेज विकीलिक्स के जरिए लीक करने को लेकर गिरफ्तार किया गया था. उस वक्त वह पुरूष सैनिक थी.

मिली थी 35 साल की सजा पर ओबामा दी थी रहम 

मैनिंग लीक को लेकर 35 साल कैद की सजा काट रही थी लेकिन ओबामा ने अवधि कम कर दी थी .

उन्होंने सोमवार को ट्वीट किया था, ‘नागरिक जीवन की स्वतंत्रता मिलने में दो दिन बाकी.’ अपनी हिरासत के दौरान वह भूख हड़ताल पर बैठी थी ताकि अनुशासनात्मक कार्रवाई की निंदा कर सकें.

उन्होंने कहा, ‘पहली बार चेल्सी के तौर पर मैं अपना भविष्य देख रही हूं. मैं जैसी हूं उस रूप में जीने की कल्पना कर सकती हूं.’

उनके रिहा होने से पहले संगीतकारों के एक समूह ने ‘हग्स फॉर चेल्सी’ नाम से एक संगीत अलबम जारी किया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi