Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

WEF 2018: दावोस के लिए रवाना हुए प्रधानमंत्री मोदी, दुनिया को दिखाएंगे भारत की 'ताकत'

पीएम मोदी दावोस में 23 जनवरी से शुरू हो रहे 48वें विश्व आर्थिक मंच (वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम) के अधिवेशन को संबोधित करेंगे

FP Staff Updated On: Jan 22, 2018 09:56 AM IST

0
WEF 2018: दावोस के लिए रवाना हुए प्रधानमंत्री मोदी, दुनिया को दिखाएंगे भारत की 'ताकत'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को स्विट्जरलैंड के दावोस के लिए रवाना हो गए हैं. उनके साथ एक हाई लेवल प्रतिनिधिमंडल भी दावोस गया है.

पीएम मोदी यहां 23 जनवरी से शुरू हो रहे 48वें विश्व आर्थिक मंच (वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम) के अधिवेशन को संबोधित करेंगे. उनकी कोशिश दुनिया के आर्थिक जगत के इस महाकुंभ में ‘मेक इन इंडिया’ के तहत वैश्विक कंपनियों को देश में निवेश के लिए प्रोत्साहित करने की होगी.

दावोस सम्‍मेलन से जुड़ी प्रमुख बातें

- विश्व आर्थिक मंच बैठक का आधिकारिक सत्र मंगलवार से शुरू होगा. 27 जनवरी तक चलने वाले इस सम्मेलन के उद्घाटन सत्र को पीएम मोदी संबोधित करेंगे. अपने भाषण में वो भारत को खुली अर्थव्यवस्था के रूप में पेश कर सकते हैं. भारत की वैश्विक अर्थव्‍यवस्‍था के विकास में अहम भागीदार, भारत में कारोबार को आसान बनाने, भ्रष्‍टाचार और काला धन घटाने, टैक्‍स प्रणाली सरल बनाने और देश के निरंतर विकास के लिए उठाए गए जरूरी कदमों पर भी प्रधानमंत्री चर्चा कर सकते हैं.

- नरेंद्र मोदी बीते दो दशकों में दावोस जाने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री है. वर्ष 1997 में एच डी देवेगौड़ा दावोस गए थे. भारत देश के बेहतरीन डिशेज (व्यंजनों) और वर्षों पुरानी विरासत 'योग' के साथ यंग, इनोवेटिव न्यू इंडिया’ की भावना के साथ स्वागत समारोह की मेजबानी करेगा.

- प्रधानमंत्री के साथ आधा दर्जन केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली, पीयूष गोयल, सुरेश प्रभु, धर्मेंद्र प्रधान, जितेंद्र सिंह और एम जे अकबर भी दावोस जा रहे हैं. उद्योग इकाई सीआईआई के नेतृत्व में सीईओ प्रतिनिधिमंडल में मुकेश अंबानी, गौतम अडाणी, अजीम प्रेमजी, राहुल बजाज, एन चंद्रशेखरन, चंदा कोचर, उदय कोटक और अजय सिंह समेत अन्य लोग शामिल हैं.

- पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘मुझे यकीन है कि द्विपक्षीय मुलाकातें फलदायी होंगी. इन देशों के साथ हमारे संबंध और आर्थिक सहयोग मजबूत होगा.’ प्रधानमंत्री ने कहा, ‘समकालीन अंतरराष्ट्रीय प्रणाली और वैश्विक सरकारी ढांचे के सामने मौजूदा और उभर रही चुनौतियों पर नेताओं, सरकारों, नीति निर्माताओं, कॉरपोरेट और सामाजिक संगठनों द्वारा गंभीरता से ध्यान देने की जरूरत है.’

उन्होंने सम्मेलन के मुख्य मंत्र ‘क्रिएटिंग अ शेयर्ड फ्यूचर इन अ फ्रैक्चर्ड वर्ल्ड’ को विचारपूर्ण और उचित बताते हुए कहा, ‘मुझे भारत के अच्छे दोस्त और मंच के संस्थापक प्रोफेसर क्लाउस श्वाब के निमंत्रण पर दावोस में विश्व आर्थिक मंच की बैठक में हिस्सा लेने का इंतजार है.’

- वैश्विक नेताओं में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समापन भाषण करेंगे. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहीद खाकान अब्बासी भी दावोस में होंगे लेकिन भारतीय अधिकारियों का कहना है कि उनके और मोदी के बीच बैठक की कोई योजना नहीं है. वहीं प्रधानमंत्री मोदी स्विट्जरलैंड के राष्ट्रपति के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगे.

- बैठक में शिरकत करने वाले अन्य नेताओं में जर्मनी की चांसलर एजेंला मर्केल, इटली के प्रधानमंत्री पाउलो गेटिलोअली, फ्रांस के राष्ट्रपति एमानुएल मैक्रोन, ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे और कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रुडो शामिल होंगे.

- सोमवार को मोदी दुनिया भर की कंपनियों के सीईओ के डिनर कार्यक्रम की मेजबानी करेंगे. इसमें 20 भारतीय कंपनियां और 40 अलग-अलग देशों की कंपनियां शामिल हैं. बुधवार को डब्ल्यूईएफ के अंतरराष्ट्रीय व्यापार समुदाय के 120 सदस्यों के साथ पीएम मोदी संवाद करेंगे.

- फिल्म अभिनेता शाहरुख खान, ऑस्ट्रेलियाई अभिनेत्री केट ब्लेन्चेट और संगीतकार एल्टन जॉन का समिट में सम्मान किया जाएगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi