S M L

चीन हिंदी सीखे और हम चीनी भाषा: सुषमा स्वराज

सुषमा स्वराज का कहना है कि दुभाषिया शब्दों का अनुवाद करके बता सकता है लेकिन भावनाओं का अनुवाद नहीं कर सकता है

Updated On: Apr 23, 2018 03:12 PM IST

Bhasha

0
चीन हिंदी सीखे और हम चीनी भाषा: सुषमा स्वराज

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि भारतीय और चीनी नागरिकों को एक दूसरे की भाषा सीखनी चाहिए. इससे उनकी बातचीत की समस्याएं दूर होंगी. सुषमा स्वराज चार दिन की चीन यात्रा पर हैं. उन्होंने कहा, 'भारत-चीन दोस्ती में हिंदी का योगदान’ विषय पर आयोजित भारतीय दूतावास के एक कार्यक्रम के दौरान ये बातें कहीं.

सुषमा स्वराज ने कहा, 'अगर दो दोस्त एकसाथ बैठते हैं तो वे क्या चाहते हैं? वे सिर्फ एक दूसरे से अपने दिल की बात करना चाहते हैं, वे जो महसूस करते हैं उसे साझा करना चाहते हैं. इसके लिए हमें भाषा की जरूरत होती है. जब आप बोलें तो मैं चीनी भाषा समझ सकूं और वैसे ही जब मैं आपसे बात करूं तो आपको भी हिंदी समझ आनी चाहिए.'

उन्होंने कहा, 'दो दोस्तों के बीच अगर कोई दुभाषिया बैठता है तो वह शब्दों का अनुवाद कर लेता है लेकिन भावनाओं को पेश नहीं कर पाता है. इसलिए यह जरूरी है कि हम भाषा सीखें.' एक दिन पहले ही यह घोषणा की गई थी कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग  27 अप्रैल से 28 अप्रैल को चीन जाएंगे. वहां वे चीन के राष्ट्रपति से मुलाकात करेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi