S M L

प्रत्यर्पण मामले में ब्रिटेन की अदालत में हाजिर हुए माल्या, कहा- मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप झूठे

सीबीआई ने कोर्ट में भारतीय पक्ष रखते हुए कहा कि वो कोर्ट के बाहर माल्या से किसी तरह का समझौता नहीं करेंगे

Updated On: Jul 31, 2018 02:40 PM IST

FP Staff

0
प्रत्यर्पण मामले में ब्रिटेन की अदालत में हाजिर हुए माल्या, कहा- मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप झूठे

भारतीय बैंकों का लगभग 14000 हजार करोड़ रुपए का कर्ज नहीं चुकाने वाले भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या प्रत्यर्पण मामले में मंगलवार को अंतिम सुनवाई हो रही है. यह सुनवाई लंदन की वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की अदालत में हो रही है. विजय माल्या इस सुनवाई के लिए व्यक्तिगत तौर से कोर्ट में उपस्थित हुए.

कोर्ट में माल्या ने कहा कि उनके खिलाफ लगाए गए सभी आरोप झूठे और बेबुनियाद हैं. माल्या ने ब्रिटेन की अदालत में कहा कि वो अपनी संपत्ति बेचकर 14000 करोड़ रुपए का कर्ज चुका देंगे. माल्या ने ब्रिटेन की यह अदालत को यह बताया कि वो यह बात कर्नाटक की अदालत में भी कह चुके हैं.

विजय माल्या लंदन के कोर्ट में अपने बेटे सिद्धार्थ के साथ उपस्थित हुए थे.

उधर सीबीआई ने कोर्ट में भारतीय पक्ष रखते हुए कहा कि वो कोर्ट के बाहर माल्या से किसी तरह का समझौता नहीं करेंगे.

मंगलवार को अंतिम सुनवाई के बाद न्यायाधीश एम्मा इस मामले में फैसले के लिए तारीख तय करेंगी.

किगफिशर एयरलाइंस के पूर्व मुखिया माल्या भारत को उनके प्रत्यर्पण के खिलाफ ब्रिटेन की अदालत में कानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं. पिछले साल अप्रैल में गिरफ्तारी के बाद से माल्या जमानत पर हैं.

इस मामले में भारतीय एजेंसियों का पक्ष रख रही क्राउन प्रॉसीक्यूशन सर्विस (सीपीएस) के प्रवक्ता ने सुनवाई से पहले कहा, 'वरिष्ठ डिस्ट्रिक्ट न्यायाधीश (एम्मा अर्बुथनाट) मंगलवार को मामले में अंतिम सुनवाई करेंगी. फैसले को आगे की तारीख के लिए सुरक्षित रखा जाएगा.

पिछली सुनवाई (27 अप्रैल) के दौरान केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई को उस समय बड़ी कामयाबी मिली थी जब न्यायाधीश अर्बुथनाट ने मामले में भारतीय एजेंसियों द्वारा पेश सबूतों को स्वीकार किया था.

(भाषा से इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi