S M L

टीनएज डेटिंग में लड़कियों से ज्यादा लड़के करते हैं हिंसा की शिकायत: स्टडी

डेटिंग के दौरान पिटने, थप्पड़ खाने और धक्का-मुक्की तक का शिकार होने की शिकायत लड़के अक्सर करते हैं

Updated On: Aug 30, 2018 05:28 PM IST

FP Staff

0
टीनएज डेटिंग में लड़कियों से ज्यादा लड़के करते हैं हिंसा की शिकायत: स्टडी
Loading...

एक स्टडी में सामने आया है कि टीनएज उम्र में डेटिंग कर रही लड़कियों से ज्यादा लड़के शारीरिक हिंसा का शिकार होते हैं. लड़कियों को भले ही अकसर ही असहज हालात का सामना करना पड़ता हो, लेकिन शारीरिक हिंसा का शिकार होने की शिकायत लड़के ज्यादा करते हैं.

यानी ‘आग के दरिया’ इश्क की तपिश लड़कियों के मुकाबले किशोर उम्र के लड़कों को अधिक सहन करनी पड़ती है. डेटिंग के दौरान पिटने, थप्पड़ खाने और धक्का-मुक्की तक का शिकार होने की शिकायत लड़के अक्सर करते हैं.

एक रिसर्च में यह बात सामने आई है. हालांकि डेटिंग के दौरान हिंसा के मामलों में कुल मिलाकर कमी आ रही है. अपने डेटिंग पार्टनर की हिंसा के शिकार टीनएज लड़कों की संख्या में कमी आई है. 2013 में डेटिंग के दौरान हिंसा के शिकार लड़कों की संख्या पांच फीसदी थी जो 2003 के छह फीसदी के मुकाबले एक फीसदी कम है.

कनाडा में वेंकूवर के यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिटिश कोलंबिया में प्रोफेसर एलिज़ाबेथ सॉइक ने कहा कि हम मानते हैं कि लड़कियां ही हमेशा पीड़ित होती हैं लेकिन इससे पता चलता है कि हमेशा ही ऐसा नहीं होता. और रिलेशनशिप में हिंसा, चाहे ये यौन हिंसा हो या शारीरिक हिंसा, दोनों में से किसी की भी तरह से की गई हो, वो उचित नहीं है.

जर्नल ऑफ इंटरपर्सनल वायलेंस में पब्लिश हुई इस रिसर्च में सामने आया कि 5.8 फीसदी लड़कों और 4.2 फीसदी लड़कियों ने कहा कि बीते साल उन्हें डेटिंग के दौरान हिंसा का शिकार होना पड़ा.

कनाडा के सिमोन फ्रेजर विश्वविद्यालय की पीएचडी स्टूडेंट कैथरीन शैफर ने कहा कि यह समझने के लिए और रिसर्च किए जाने की जरूरत है कि लड़के डेटिंग के दौरान हिंसा की ज्यादा शिकायत क्यों करते हैं. हिंसा का शिकार हो रहे लड़के डिप्रेशन में जाकर मानसिक अस्वस्थता का भी शिकार हो सकते हैं.

शैफर ने कहा, ‘यह हो सकता है कि प्रेम संबंधों में लड़कियों के लिए यह अब भी सामाजिक रूप से स्वीकार्य है कि वे लड़कों को पीटें या उन्हें थप्पड़ मार दें. दूसरे देशों में किशोरों पर किए गए रिसर्च में भी यह पाया गया है.’ उन्होंने कहा कि डेटिंग के दौरान हिंसा के गिरावट, भले ही मामूली हो किंतु उत्साहजनक है.

 

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi