S M L

अमेरिका की सूची में भारत का भी नाम, रख रहा है नजर

अमेरिका ने भारत समेत कुछ देशों को उस लिस्ट में रखा है जिनकी विदेशी मुद्रा के लेन-देन पर उसका वित्त विभाग नजर रखेगा

Updated On: Apr 14, 2018 09:49 PM IST

FP Staff

0
अमेरिका की सूची में भारत का भी नाम, रख रहा है नजर

दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था अमेरिका और चीन की तकरार को लेकर तो लगातार खबरें आती ही रहती है लेकिन अब अमेरिका भारत पर भी शक कर रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अमेरिका ने भारत-चीन समेत दुनिया के छह देशों की लिस्ट तैयार की है. जिन पर अमेरिका का वित्त विभाग नजर रखेगा.

अमेरिका ने भारत समेत कुछ देशों को उस लिस्ट में रखा है जिनकी विदेशी मुद्रा के लेन-देन पर उसका वित्त विभाग नजर रखेगा. अमेरिका के मुताबिक, वह उन देशों की लिस्ट तैयार करना चाहता है जो अपनी करेंसी को कथित रूप से गलत ढंग से मैनेज करते हैं और उससे व्यापार में फायदा लेते हैं. भारत के साथ चीन, जर्मनी, जापान, कोरिया और स्विट्जरलैंड को इस लिस्ट में रखा गया है.इसपर पिछले साल से बातचीत चल रही थी. तब गवर्नर रघुराम राजन ने साफ कहा था कि अमेरिका को भारत पर मुद्रा में गड़बड़ी करने का आरोप नहीं लगाना चाहिए.

अमेरिका की संसद कांग्रेस में इसकी जरूरत महसूस की गई थी. लिस्ट से जुड़े सवाल पर वित्त विभाग के अधिकारी ने कहा कि जो मॉनिटरिंग लिस्ट तैयार की गई है उसका मकसद सिर्फ नजर रखना है. अधिकारी के मुताबिक, लिस्ट में उन देशों को रखा गया है जिनके साथ अमेरिका बड़ी मात्रा में व्यापार करता है. वित्त विभाग की मानें तो लिस्ट के जरिए अमेरिका इन देशों की मुद्रा नीति पर करीब से नजर रखना चाहता है. इस लिस्ट के हिसाब से अक्टूबर में काम शुरू किया जाएगा.

लिस्ट बनाने के मकसद के बारे में पूछने पर अधिकारी ने कहा, 'हम गलत मुद्रा नीतियों का विरोध करेंगे और व्यापार को बढ़ावा देनेवाली पॉलिसी बनाने पर जोर देंगे.' अमेरिका के बयान के मुताबिक, वे उन देशों का पता लगाना चाहते हैं जो बनावटी ढंग से अपने देश की करंसी की वेल्यू को मैनेज करके व्यापार में फायदा लेने की कोशिश करते हैं. ऐक्सचेंज रेट को कम करके सस्ता एक्सपोर्ट करना इसका एक उदाहरण है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi