S M L

अमेरिका ने पाकिस्तान को फिर दिया झटका, 1.1 अरब डॉलर की सहायता राशि रोकी

पाकिस्तान को मिलने वाले फंड पर रोक अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के उस ट्वीट के बाद लगाई गई, जिसमें उन्होंने पाकिस्तान पर कई गंभीर आरोप लगाए थे

Bhasha Updated On: Jan 05, 2018 10:08 AM IST

0
अमेरिका ने पाकिस्तान को फिर दिया झटका, 1.1 अरब डॉलर की सहायता राशि रोकी

अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 1.1 अरब डॉलर से अधिक की सुरक्षा सहायता राशि पर रोक लगा दी है. पाकिस्तान की ओर से अफगान तालिबान और हक्कानी नेटवर्क जैसे आतंकी समूहों को पनाह देने, इनके खिलाफ ‘निर्णायक कार्रवाई’ नहीं करने जैसे कदम को फंड रोके जाने का तात्कालिक कारण माना जा रहा है.

दूसरी ओर, अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने यह साफ कर दिया कि पाकिस्तान को सुरक्षा सहायता फंड रोकने के पीछे हाफिज सईद के खिलाफ इस्लामाबाद के कोई कदम नहीं उठाने से कोई लेना देना नहीं है.

पाकिस्तान को मिलने वाले फंड पर रोक अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के उस ट्वीट के बाद लगाई गई, जिसमें उन्होंने पाकिस्तान पर कई गंभीर आरोप लगाए थे. ट्रंप ने कहा कि पिछले 15 साल में 33 अरब डॉलर की सहायता के बदले उसने अमेरिका को सिर्फ ‘झूठ और छल’ दिया है. साथ ही आतंकवादियों को सुरक्षित पनाह दी है.

इसमें 2016 के लिए फॉरेन मिलिटरी फंड (एफएमएफ) के अंतर्गत दी जाने वाली 25 करोड़ 50 लाख डॉलर की रकम शामिल है, जिसे कांग्रेस ने जरूरी बना दिया था. इसके अलावा रक्षा मंत्रालय ने 2017 के लिए पाकिस्तान को दी जाने वाली गठबंधन सहायता निधि (सीएसएफ) 90 करोड़ डॉलर पर भी रोक लगा दी है.

अमेरिकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीथर नोर्ट ने पत्रकारों से कहा, ‘आज हम यह साफ कर देना चाहते हैं कि पाकिस्तान की राष्ट्रीय सुरक्षा सहायता केवल तब तक के लिए रोक रहे हैं जब तक की पाकिस्तान सरकार अफगान तालिबान और हक्कानी नेटवर्क जैसे समूहों के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई नहीं करता. हम उन्हें (समूह) क्षेत्र में अस्थिरता पैदा करने और अमेरिकी लोगों को निशाना बनाने वाला मानते हैं. अमेरिका, पाकिस्तान को दी जाने वाली इस तरह की सहायता पर रोक लगा रहा है.’

दूसरी ओर, विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीथर नोर्ट से जब पूछा गया कि क्या सुरक्षा सहायता रोकने का संबंध सईद से है जिसे पाकिस्तान ने पिछले साल नवंबर में रिहा कर दिया था, हीथर ने कहा, ‘हमने पाकिस्तान में नजरबंद 2008 मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड को रिहा करने को लेकर निश्चित ही चिंता जाहिर की है, लेकिन मेरी जानकारी के मुताबिक इसका इससे कोई लेना देना नहीं है.’

हीथर ने कहा, ‘पाकिस्तान में रिहा किए गए मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड की कोई सूचना जो कि उसकी दोबारा गिरफ्तारी का करण बन सके, देने वाले को एक करोड़ डॉलर के इनाम की घोषणा की गई है. हमने उस शख्स को छोड़े जाने पर अपनी नाखुशी जाहिर कर दी है. इसलिए हम लोगों को यह याद दिलाना चाहते हैं कि उसे न्याय के दायरे में लाने के लिए एक करोड़ डॉलर का इनाम घोषित है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi