S M L

9/11: इस आतंकी हमले की यादें आज भी रूह कंपा देती हैं

दुनिया | FP Staff | Sep 12, 2017 04:20 PM IST
X
1/ 7
अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने 9/11 हमले की बरसी पर पहली बार श्रद्धांजलि सभा की अध्यक्षता की. इस हमले की 16वीं बरसी है

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने 9/11 हमले की बरसी पर पहली बार श्रद्धांजलि सभा की अध्यक्षता की. इस हमले की 16वीं बरसी है

X
2/ 7
 11 सितंबर, 2001 को अलकायदा के आतंकियों ने न्यूयार्क के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर, पेंटागन और पेन्सिलवेनिया के शैंक्सविल के पास एक मैदान में विमान घुसा दिए थे

11 सितंबर, 2001 को अलकायदा के आतंकियों ने न्यूयार्क के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर, पेंटागन और पेन्सिलवेनिया के शैंक्सविल के पास एक मैदान में विमान घुसा दिए थे

X
3/ 7
दुनिया की सबसे बड़ी महाशक्ति पर आतंकवादी हमला होना विश्व की शांति को तमाचा था.पहले धमाका होने पर किसी ने नहीं सोचा था कि ये कोई आतंकी हमला है

दुनिया की सबसे बड़ी महाशक्ति पर आतंकवादी हमला होना विश्व की शांति को तमाचा था.पहले धमाका होने पर किसी ने नहीं सोचा था कि ये कोई आतंकी हमला है

X
4/ 7
अमेरिका में इस हमले को अंजाम देने के लिए करीब 19 आतंकवादियों ने चार विमान हाईजैक किए गए थे.

अमेरिका में इस हमले को अंजाम देने के लिए करीब 19 आतंकवादियों ने चार विमान हाईजैक किए गए थे.

X
5/ 7
इस हमले के बाद अमेरिका की 10 अरब डॉलर की संपत्ति और इन्फ्रास्ट्रक्चर बरबाद हो गया था.

इस हमले के बाद अमेरिका की 10 अरब डॉलर की संपत्ति और इन्फ्रास्ट्रक्चर बरबाद हो गया था.

X
6/ 7
ग्राउंड जीरो से सिर्फ 291 शव ठीक हालत में निकाले जा सके थे और 18 लाख टन मलबा साफ करने के लिए 75 करोड़ डॉलर खर्च हुए थे.

ग्राउंड जीरो से सिर्फ 291 शव ठीक हालत में निकाले जा सके थे और 18 लाख टन मलबा साफ करने के लिए 75 करोड़ डॉलर खर्च हुए थे.

X
7/ 7
इस हमले के पीछे ओसामा बिन लादेन का हाथ माना जाता है, जिसे सालों तक खोजने के बाद अमेरिका ने मई 2011 में पाकिस्तान के अबोटाबाद में मार गिराया था.

इस हमले के पीछे ओसामा बिन लादेन का हाथ माना जाता है, जिसे सालों तक खोजने के बाद अमेरिका ने मई 2011 में पाकिस्तान के अबोटाबाद में मार गिराया था.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी