S M L

अमेरिका ने सीरिया पर दागे 100 से अधिक मिसाइल, 3 नागरिक घायल

रूस के एक वरिष्ठ सैन्य अधिकारी के अनुसार सीरियाई वायुसेना ने अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस के तरफ से दागे जा रहे 71 रॉकेटों को हवा में नाकाम कर दिया है

Bhasha Updated On: Apr 14, 2018 05:40 PM IST

0
अमेरिका ने सीरिया पर दागे 100 से अधिक मिसाइल, 3 नागरिक घायल

अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए सीरिया पर 100 से अधिक मिसाइल दागे हैं. इन मिसाइल हमलों से सीरिया की राजधानी दमिश्क दहल उठा है. सीरिया की सरकारी मीडिया ने अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन की ओर से किए गए हमलों को गैरकानूनी करार देते हुए कहा कि निश्चित रूप से यह असफल होंगे.

शनिवार सुबह राजधानी दमिश्क के आसपास विस्फोट की तेज आवाजें सुनी गईं. सीरियाई वायुसेना का दावा है कि उसने जवाबी कार्रवाई करते हुए दुश्मन के कई मिसाइल मार गिराए हैं. सीरिया के सरकारी टेलीविजन ने दिखाया कि वैज्ञानिक अनुसंधान केंद्र पर हमला हुआ. रूस के एक वरिष्ठ सैन्य अधिकारी के अनुसार सीरियाई वायुसेना ने अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस के तरफ से दागे जा रहे 71 रॉकेटों को हवा में नाकाम कर दिया है.

मिसाइल हमले में सीरिया के होम्स शहर में 3 नागरिकों के घायल होने की खबर है.

सरकारी समाचार एजेंसी ‘सना’ ने कहा, ‘यह कदम अंतरराष्ट्रीय कानून का उग्र उल्लंघन, अंतरराष्ट्रीय समुदाय की इच्छा का उल्लंघन है और इसका असफल होना तय है.’

US Attacks Syria

(फोटो: रॉयटर्स)

दमिश्क में ‘एएफपी’ के संवाददाताओं ने कहा कि स्थानीय समय के अनुसार सुबह तकरीबन 4 बजे विमानों के गुजरने की आवाजों के बाद लगातार कई विस्फोटों की आवाजें सुनी गईं. राजधानी के उत्तरी और पूर्वी इलाकों से धुआं भी निकलता देखा गया.

‘सना’ की रिपोर्ट के अनुसार संयुक्त अभियान में दमिश्क के आसपास और होम्स के नजदीक सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाया गया. उसने कहा कि होम्स हमले में तीन नागरिक घायल हुए लेकिन दमिश्क में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है.

'रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल करने वाले देशों के लिए यह कड़ा संदेश'

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने कहा है कि सीरिया के खिलाफ यह कार्रवाई उन देशों के लिए कड़ा संदेश है जो रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल करते हैं.

अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस के मिसाइल हमले से खफा रूस 

इस बीच रूस के रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि सीरिया में पश्चिमी देशों के किसी भी हमले ने रूस के वायुसेना अड्डे और नौसैनिक अड्डे के आसपास उसकी वायुसेना के क्षेत्र में आने वाले इलाकों को निशाना नहीं बनाया.

मंत्रालय ने शनिवार को अपने एक बयान में कहा, ‘अमेरिका और उसके सहयोगी देशों की कोई भी क्रूज मिसाइल टारटस और कहामिम में रूस की वायुसेना के तहत आने वाले इलाकों में प्रवेश नहीं किया.’

इस बीच रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने कहा है कि उन्होंने इस मसले पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) से आपातकालीन बैठक बुलाने की मांग की है.

अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन ने राजधानी दमिश्क के बाहरी इलाके में संदिग्ध रासायनिक हमले के एक सप्ताह बाद सीरियाई सरकार के खिलाफ संयुक्त अभियान की घोषणा की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
FIRST TAKE: जनभावना पर फांसी की सजा जायज?

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi