S M L

ट्रंप ने चीन पर 50 अरब डॉलर आयात शुल्क को दी मंजूरी, चीन करेगा कार्रवाई

चीन कह चुका है कि अमेरिका ने 50 अरब डॉलर का शुल्क लगाया तो वह भी अमेरिकी सामानों जैसे कार, विमान और सोयाबीन पर 50 अरब डॉलर का शुल्क लगाएगा

Updated On: Jun 15, 2018 05:15 PM IST

Bhasha

0
ट्रंप ने चीन पर 50 अरब डॉलर आयात शुल्क को दी मंजूरी, चीन करेगा कार्रवाई

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीनी सामानों के आयात पर 50 अरब डॉलर के नए शुल्क को मंजूरी दे दी है. इसके बाद चीन ने इसके खिलाफ जवाबी कार्रवाई की चेतावनी दी है. इससे दुनिया की दो सबसे बड़ी इकोनॉमी के बीच व्यापार युद्ध की आशंका बढ़ गई है.

अमेरिका ने कहा कि चीन पर लगाया गया शुल्क उस बात की प्रक्रिया है जिसे वह कॉपीराइट की चोरी बताता आया है. आने वाले सप्ताह में इसे संघीय लेखा-जोखा में भी अधिसूचित किए जाने का अनुमान है. ऐसी आशंका है कि चीन भी इस पर जवाबी कदम उठाएगा.

ट्रंप ने वाणिज्य मंत्री विल्बर रॉस, वित्त मंत्री स्टीवन न्यूचिन और व्यापार प्रतिनिधि रॉबर्ट लाइटहाइजर के साथ गुरुवार को 90 मिनट की बैठक के बाद इसे मंजूरी दी. बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रतिनिधि भी मौजूद थे. चीन ने ट्रंप के इस कदम पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि वह जल्दी ही जवाबी कदम उठाएगा.

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने बीजिंग में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, ‘यदि अमेरिका एकतरफा संरक्षणवादी कदम उठाता है और चीन के हितों को नुकसान पहुंचाता है तो हम तत्काल प्रतिक्रिया देंगे और अपने अधिकारों और हितों की सुरक्षा के लिए जरूरी कदम उठाएंगे.’

चीन ने पहले कहा था कि यदि अमेरिका ने 50 अरब डॉलर का शुल्क लगाया तो वह भी अमेरिकी सामानों जैसे कार, विमान और सोयाबीन पर 50 अरब डॉलर का शुल्क लगाएगा. ट्रंप ने सबसे पहले मार्च में कहा था कि अमेरिका चीन के सामान पर 50 अरब डॉलर का शुल्क लगाएगा. चीन की ओर से जवाबी कार्रवाई की चेतावनी के बाद ट्रंप ने चीनी सामानों पर 100 अरब डॉलर का अतिरिक्त शुल्क लगाने की बात की थी.

बाद में मई में दोनों देशों ने इसके बारे में बातचीत शुरू की थी. हालांकि महज 10 ही दिन बाद अमेरिका ने कहा था कि वह शुल्क के साथ आगे बढ़ेगा. इस फैसले के बाद सांसद रोजा डीलॉरो ने कहा कि इस शुल्क को अमेरिका की ओर से चीन जैसे गैरजिम्मेदार देशों को जवाबदेह बनाने और चीन की सरकार को व्यापार का अधिक अनुकूल संतुलन तय करने को बातचीत की मेज तक लाने के समाधान की तरह देखा जाना चाहिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi