S M L

भारत ने 7 रोहिंग्याओं को भेजा वापस, संयुक्त राष्ट्र ने जताई चिंता

संयुक्त राष्ट्र ने सात रोहिंग्याओं पर अत्याचार होने की चेतावनी के बावजूद उन्हें भारत के जरिए म्यांमार को प्रत्यर्पित किए जाने की आलोचना की.

Updated On: Oct 05, 2018 07:30 PM IST

Bhasha

0
भारत ने 7 रोहिंग्याओं को भेजा वापस, संयुक्त राष्ट्र ने जताई चिंता

संयुक्त राष्ट्र ने सात रोहिंग्याओं पर अत्याचार होने की चेतावनी के बावजूद उन्हें भारत के जरिए म्यांमार को प्रत्यर्पित किए जाने की आलोचना की. संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी ने कहा कि उसे उन सात व्यक्तियों की सुरक्षा की बड़ी चिंता हो रही है जो भारत से म्यांमार लौटे.

आव्रजन अपराधों में साल 2012 से हिरासत में बंद इन व्यक्तियों को मणिपुर में सीमा पर भारतीय अधिकारियों ने म्यांमार के अधिकारियों के हवाले कर दिया. उन्हें म्यांमार वापस भेजे जाने से पहले संयुक्त राष्ट्र ने चिंता प्रकट की थी कि इन व्यक्तियों को लौटाते समय उस खतरे की अनदेखी की गई जिसका उन्होंने म्यांमार में झेला है. म्यांमार में दशकों से रोहिंग्या, सुरक्षाबलों के हिंसक कार्यक्रमों के निशाने पर रहे हैं.

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग ने चिंता व्यक्त की कि भारतीय अधिकारियों ने उसके इस अनुरोध पर जवाब नहीं दिया कि वह उस देश में अंतर्राष्ट्रीय शरणार्थी सुरक्षा के इन लोगों के दावे का मूल्यांकन कर रही है. एजेंसी के प्रवक्ता एंड्रेज माहेसिस ने से कहा कि यूएनएचसीआर को इस अनुरोध पर जवाब नहीं मिलने और राज्य विधि सेवा से वकील का इंतजाम नहीं करा पाने का अफसोस है. लेकिन वह इस संबंध में स्पष्टीकरण मांगता रहेगा कि किन परिस्थितियों में इन लोगों को म्यांमार वापस भेज दिया गया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi