S M L

ब्रिटेन की जिहादी जेल मानवाधिकार के डर से हैं खाली

जेल सेवा विभाग आतंकवादियों को अलग जेलों में डालने से कतरा रहा है क्योंकि उसे मानवाधिकार उल्लंघन को लेकर मुकदमा दायर कर दिए जाने का डर सता रहा है

Updated On: Jun 03, 2018 06:12 PM IST

Bhasha

0
ब्रिटेन की जिहादी जेल मानवाधिकार के डर से हैं खाली

ब्रिटेन के सबसे खतरनाक दोषी ठहराए गए आतंकवादियों को रखने के लिए बनाई गई उच्च सुरक्षा वाली जेलें खाली होने जा रही हैं क्योंकि जेल सेवा विभाग को मानवाधिकार पर चुनौती मिलने का डर है.

संडे टाईम्स के मुताबिक, इस्लामिक चरमपंथियों के खतरे के बावजूद आधे से कम ऐसी जेलों में कैदी हैं. उन्हें ब्रिटेन के सबसे खतरनाक इस्लामिक आतंकवादियों को रखने के लिए बनाया गया था.

अखबार ने जेल सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि जेल सेवा विभाग आतंकवादियों को इन अलग जेलों में डालने से कतरा रहा है क्योंकि उसे मानवाधिकार उल्लंघन को लेकर मुकदमा दायर कर दिए जाने का डर सता रहा है.

सूत्र ने कहा, ‘जेल सेवा विभाग अलग जेलों में डालने के लिए आसानी से और आतंकवादी ढूंढ सकता है लेकिन उसे कानूनी चुनौती और मानवाधिकार उल्लंघन का आरोप लगाए जाने का डर है.’ फिलहाल 160 से अधिक दोषी ठहराए गए आतंकवादी जेल में हैं लेकिन अंजम चौधरी समेत महज सात को ही इन जलों में डाला गया है. ये इकाइयां उनके लिए बनाई गई थीं जो राष्ट्रीय सुरक्षा खतरा हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi