S M L

काबुल में अमन का पैगाम दे रहे उलेमाओं पर फिदायीन हमला, 14 की मौत

लोया जिगरा में टेंट में चल रही बैठक पर फिदायीन हमला हुआ. धमाके के वक्त बैठक खत्म हो गई थी और उलेमा सभा छोड़ने की तैयारी में थे

FP Staff Updated On: Jun 04, 2018 03:49 PM IST

0
काबुल में अमन का पैगाम दे रहे उलेमाओं पर फिदायीन हमला, 14 की मौत

काबुल में रविवार को हुए एक बम धमाके में 14 लोगों के मरने की खबर है. इस घटना में 17 लोग घायल भी हुए हैं.

अफगानिस्तान के टोलो न्यूज ने बताया कि उलेमा बैठक में जुटे लोगों पर हमला किया गया. मृतकों में 7 धर्मगुरु और 4 सुरक्षा अधिकारी बताए जा रहे हैं. 3 और लोग मरे हैं जिनकी शिनाख्त नहीं हो पाई है.

काबुल पॉलिटेक्निक यूनिवर्सिटी के ठीक बगल में लोया जिगरा में यह धमाका हुआ. इस बैठक में लगभग 2 हजार धर्म गुरु जुटे थे. अफगानिस्तान में जारी जंग के खिलाफ उलेमाओं की ओर से फतवा जारी होने के कुछ देर के बाद यह धमाका हुआ.

काबुल पुलिस के प्रवक्ता हशमत स्तेनिकजई ने ओलो न्यूज को बताया कि 'लोया जिगरा में टेंट में चल रही बैठक पर फिदायीन हमला हुआ. धमाके के वक्त बैठक खत्म हो गई थी और उलेमा सभा छोड़ने की तैयारी में थे.'

तालिबान ने इस हमले की जिम्मेदारी लेने से इनकार कर दिया है.

अफगानिस्तान में कई वर्षों से आतंकी हमले हो रहे हैं. यहां आतंकी अक्सर फिदायीन लड़ाके होते हैं जिनका दावा होता है कि वे इस्लाम का 'पवित्र जंग' लड़ रहे हैं. रविवार के फतवे में उलेमाओं ने एकसुर में कहा था कि इस्लामिक कानून और शरिया के मुताबिक किसी प्रकार का जंग अवैध है जो और कुछ नहीं बल्कि मुस्लिमों का खून बहा रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi