S M L

तुलसी गबार्ड 2020 में अमेरिका के राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ सकती है

हवाई से चार बार की सांसद गबार्ड ने इस दावे से न तो इंकार किया है न ही इकरार किया है

Updated On: Nov 12, 2018 06:07 PM IST

FP Staff

0
तुलसी गबार्ड 2020 में अमेरिका के राष्ट्रपति पद का चुनाव लड़ सकती है

अमेरिकी कांग्रेस में पहली हिंदू सांसद तुलसी गबार्ड 2020 में अमेरिकी राष्ट्रपति पद के लिए खड़ी हो सकती हैं. हवाई से सांसद तुलसी के करीबी सूत्रों ने यह जानकारी दी है. शुक्रवार को, लॉस एंजिल्स में एक मेडट्रोनिक सम्मेलन के दौरान प्रतिष्ठित भारतीय-अमेरिकी डॉ संपत शिवांगी ने 37 वर्षीय गबार्ड का परिचय कराया और कहा कि 2020 में वो अमेरिका की अगली राष्ट्रपति हो सकती हैं.

डेमोक्रेटिक उम्मीदवार गबार्ड ने सभा को संबोधित किया. हालांकि उन्होंने न तो इस खबर की पुष्टि की और न ही इससे इनकार किया कि वह 2020 में राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार होंगी या फिर नहीं. हालांकि इस पर निर्णय क्रिसमस से पहले लिया जा सकता है. लेकिन इसकी औपचारिक घोषणा अगले साल तक की जा सकती है.

हालांकि, ऐसा कहा जा रहा है कि गबार्ड और उनकी टीम शांति से चुपचाप भावी डोनरों से बात कर रही हैं. इसमें बड़ी संख्या में भारतीय अमेरिकी और स्वयंसेवक 2020 के उनके चुनावी दौड़ के प्रभावशाली अभियान की तैयारी कर रहे हैं. गबार्ड भारतीय-अमेरिकियों के बीच बेहद लोकप्रिय है.

न्यूज18 के मुताबिक अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत से ही उन्होंने अपने निर्वाचन क्षेत्र में अपनी प्रतिष्ठा स्थापित है. इसलिए स्वाभाविक है कि उनकी टीम चुपचाप इस समुदाय तक पहुंचने में लगी है. भारतीय अमेरिकी समुदाय यहूदी अमेरिकियों के बाद सबसे अमीर समुदाय है. इसके साथ ही और भी कई महत्वपूर्ण राज्यों में, भारतीय अमेरिकी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं.

गबार्ड भारतीय नहीं हैं. उनका जन्म अमेरिका के सामोआ में हुआ है. कैथोलिक पिता (हवाई राज्य सीनेटर माइक गबार्ड) और उनकी मां, कैरल पोर्टर गबार्ड, कोकेशियान वंश की थी. उनके माता पिता हिंदू धर्म के अनुयायी है. दो साल की उम्र में गबार्ड हवाई में चले गए और हिंदू धर्म को अपना लिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi