S M L

सीरियाई विद्रोहियों का समर्थन बंद करेगा अमेरिका

ट्रंप के इस फैसले को रूस के साथ उनकी कथित नजदीकियों से जोड़ कर देखा जा रहा है

Updated On: Jul 25, 2017 06:58 PM IST

Bhasha

0
सीरियाई विद्रोहियों का समर्थन बंद करेगा अमेरिका

अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल असद के खिलाफ लड़ रहे विद्रोहियों का समर्थन बंद करने का ऐलान कर दिया है.

इस अभियान का 'विशाल, खतरनाक और फिजूलखर्ची वाला' होना इस फैसले का कारण बताया गया है.

अमेरिका के विशेष अभियान के प्रमुख जनरल टोनी थॉमस ने इसकी पुष्टि की कि चार साल पुराने इस अभियान को बंद कर दिया गया है. उन्होंने इन आरोपों को खारिज किया कि यह फैसला रूस को खुश करने के लिए लिया गया है. रूस सीरिया में असद सरकार का समर्थन करता है.

ट्रंप ने ट्वीट कर कहा, 'ऐमेजॉन वाशिंगटन पोस्ट ने असद के खिलाफ सीरियाई विद्रोहियों की विशाल, खतरनाक और फिजूल के फंडिंग वाले अभियान को बंद करने के मेरे फैसले को तोड़ मरोड़कर पेश किया.'

वाशिंगटन पोस्ट पर फेक न्यूज़ देने का लगाया आरोप

गौरतलब है कि ट्रंप ने ऐमेजॉन संस्थापक और सीईओ जेफ बेजोस के मालिकाना हक वाले द वाशिंगटन पोस्ट पर हमला बोल दिया. उन्होंने आरोप लगाया कि अखबार का इस्तेमाल नेताओं पर दबाव बनाने के लिए कांग्रेस के खिलाफ किया जा रहा है ताकि नेता ई-कॉमर्स कंपनी के कथित 'नो-टैक्स मोनोपोली' पर ध्यान ना दें.

ट्रंप ने अखबार पर फर्जी खबरें देने का भी आरोप लगाया.

यह ट्वीट अखबार में प्रकाशित एक लेख के जवाब में है जिसका शीर्षक है 'रूस के साथ सहयोग सीरिया में ट्रंप की रणनीति का अहम बिंदु बन गया है.' अमेरिका और रूस इस महीने हुए हैम्बर्ग में जी-20 में अपनी पहली बैठक में दक्षिण सीरिया में लड़ाई कम करने पर सहमत हो गए थे.

पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने असद सरकार के खिलाफ विद्रोहियों को सहायता देने के कार्यक्रम को 2013 में मंजूरी दी थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi