S M L

छोटे हथियारों के अवैध कारोबार पर रोक लगाना जरूरी: भारत

गिल ने कहा कि भारत के सीमा प्रबंधन का मुख्य मकसद देश की सीमाओं को अवैध व्यापार से सुरक्षित करना है

Updated On: Jun 20, 2018 07:40 PM IST

Bhasha

0
छोटे हथियारों के अवैध कारोबार पर रोक लगाना जरूरी: भारत

छोटे हथियारों पर संयुक्त राष्ट्र के एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए भारत के स्थाई प्रतिनिधि अमनदीप सिंह गिल ने कहा कि सीमा प्रबंधन (बॉर्डर मैनेजमेंट) भारत के लिए एक बड़ी चुनौती है क्योंकि वह कई देशों की सीमा से जुड़ा हुआ है.

गिल ने कहा कि भारत के सीमा प्रबंधन का मुख्य मकसद देश की सीमाओं को अवैध व्यापार से सुरक्षित करना है. इसमें सीमा प्रबंधन इकाई का गठन और इस दायरे में द्विपक्षीय और बहुपक्षीय सहयोग स्थापित करना शामिल है.

गिल छोटे हथियारों और हल्के हथियारों (एसएएलडब्लू) के अवैध व्यापार को रोकने और अवैध व्यापार पूरी तरह खत्म करने के लिए चलाई गई (पीओए) योजना की समीक्षा पर बोल रहे थे.

उन्होंने कहा कि भारत एसएएलडब्लू के अवैध व्यापार को रोकने, उसके खिलाफ मुकाबला करने के बहुपक्षीय प्रयासों के आधार के तौर पर चलाई गई  इस योजना को ज्यादा महत्व देता है.

आतंकवाद से बूरी तरह प्रभावित है भारत

उन्होंने कहा, ‘भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा आतंकवाद, अंतरराष्ट्रीय संगठित अपराध, नशीली चीजों की तस्करी और समुद्री डकैती से प्रभावित है. इनसब में एसएएलडब्लू हानिकारक भूमिका निभाता है. इसलिए योजना का ठीक तरह से पूरा होना भारत के लिए सबसे जरूरी है. खासतौर पर आतंकवाद और अंतरराष्ट्रीय अपराध से मुकाबले के लिए यह अहम है.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi