S M L

स्टीफन हॉकिंग ने मानवता को नष्ट कर देने वाली 'सुपरह्यूमन' की नई नस्ल के खिलाफ दी थी चेतावनी

मार्च महीने में स्टीफन का 76 साल की उम्र में निधन हो गया था, इस दौरान तक वह कई लेख लिख रहे थे जिसे वह एक पुस्तक के तौर पर लाना चाहते थे

Updated On: Oct 14, 2018 09:25 PM IST

FP Staff

0
स्टीफन हॉकिंग ने मानवता को नष्ट कर देने वाली 'सुपरह्यूमन' की नई नस्ल के खिलाफ दी थी चेतावनी

अपनी अंतिम भविष्यवाणी में, सात महीने पहले मरने वाले दुनिया के सबसे प्रसिद्ध सैद्धांतिक भौतिकविदों में से एक स्टीफन हॉकिंग ने सुझाव दिया था कि अनुवांशिक इंजीनियरिंग एक नई प्रजाति पैदा करने की कौशिश में है जो मानवता को नष्ट कर सकती है.

मार्च महीने में स्टीफन का 76 साल की उम्र में निधन हो गया था. इस दौरान तक वह कई लेख लिख रहे थे जिसे वह एक पुस्तक के तौर पर लाना चाहते थे. हालांकि वह अधूरी छूटी उनकी किताब मंगलवार को प्रकाशित होगी.

हॉकिंग ने लिखा, 'मुझे यकीन है कि इस शताब्दी के दौरान लोगों को पता चल जाएगा कि कैसे खुफिया और प्रवृत्तियों जैसे कि आक्रामकता को संशोधित किया जाता है. कानून शायद मनुष्यों के साथ अनुवांशिक इंजीनियरिंग के खिलाफ पारित किए जाएंगे. लेकिन कुछ लोग मानव विशेषताओं, जैसे याद्दास्त, बीमारी के प्रतिरोध और जीवन में सुधार करने जैसे कई प्रलोभनों का विरोध नहीं कर पाएंगे.'

हॉकिंग ने लिखा, 'एक बार ऐसे सुपरह्यूमन प्रकट होने के बाद, अप्रत्याशित मनुष्यों के साथ महत्वपूर्ण राजनीतिक समस्याएं होंगी, जो उनसे प्रतिस्पर्धा करने में सक्षम नहीं होंगे.' गार्जियन की रिपोर्ट के मुताबिक हॉकिंग का इशारा क्रिस्प्र-कैस 9 जैसी तकनीक की ओर था. यह तकनीक एक डीएनए-एडिटिंग सिस्टम है. जिसका आविष्कार छह साल पहले हुआ था. यह प्रणाली वैज्ञानिकों को हानिकारक जीन को संशोधित करने या उनमें नए जीन जोड़ने की अनुमति देती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi