S M L

कैंसर से पीड़ित महिला ने खुद को बताया 'आतंकी', खर्च हुए 75 हजार रुपए!

2015 में स्टीवेंसन को अपने टर्मिनल ब्रेस्ट कैंसर के बारे में पता चला. एप्लीकेशन के रिजेक्ट होने का मतलब ये था कि अब स्टीवेंसन को न्यूयॉर्क की अपनी यात्रा को टालनी पड़ी

Updated On: Sep 29, 2018 08:25 PM IST

FP Staff

0
कैंसर से पीड़ित महिला ने खुद को बताया 'आतंकी', खर्च हुए 75 हजार रुपए!

29 साल की कैंसर रोगी को अपनी न्यूयॉर्क यात्रा स्थगित करनी पड़ी. क्योंकि उसने गलती से अपने वीज़ा छूट फॉर्म पर गलती से खुद को 'आतंकवादी' के रूप में टिक कर दिया था. बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, मैंडी स्टीवेन्सन ने ऑनलाइन आवेदन भरते समय यह गलती की. इसमें उनसे पूछा गया था कि क्या वह 'तलाश' कर रही हैं या फिर कभी भी किसी 'आतंकवादी गतिविधियों या नरसंहार' में शामिल थीं.

जब स्टीवेंसन का एप्लीकेशन रिजेक्ट हो गया तब उन्हें अपनी गलती का एहसास हुआ. 2015 में स्टीवेंसन को अपने टर्मिनल ब्रेस्ट कैंसर के बारे में पता चला. एप्लीकेशन के रिजेक्ट होने का मतलब ये था कि अब स्टीवेंसन को न्यूयॉर्क की अपनी यात्रा को टालनी पड़ी. उसी रिपोर्ट के मुताबिक न्यूयार्क जाना स्टीवेंसन का सपना था और अब उन्हें लंदन में अमेरिकी दूतावास में जाकर ये साबित करना होगा कि वो सुरक्षा के लिए खतरा नहीं हैं.

कई इंटरव्यू के बाद, स्कॉटलैंड के फाल्किर्क की रहने वाली स्टीवेन्सन को फुल वीज़ा दिया गया. हालांकि, अमेरिकी अधिकारियों ने उन्हें सूचित कर दिया था कि वीजा के उनके फ्लाइट से पहले पहुंचने की कोई गारंटी नहीं है. इसके अलावा, उन्हें अपनी यात्रा को किसी दूसरे दिन के लिए फिर से बुक करने की भी सलाह दी गई थी.

अपनी ट्रिप को अगले महीने करने में स्टीवेन्शन को £800 (75,589 रुपए) का चूना लगा.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi