S M L

यौन उत्पीड़न मामलों पर पोप फ्रांसिस ने कहा- 'हमने अपने बच्चों की देखभाल नहीं की'

फ्रांसिस ने पीड़ितों को हुए दर्द के लिए माफी मांगी और कहा कि सभी कैथोलिक उत्पीड़न और इसे ढंकने के प्रयासों को खत्म करने के प्रयासों में शामिल हों. उन्होंने उत्पीड़न संकट के लिए जिम्मेदार मानी जाने वाली खुद से जुड़ी पादरी संस्कृति की निंदा की.

Updated On: Aug 20, 2018 08:14 PM IST

FP Staff

0
यौन उत्पीड़न मामलों पर पोप फ्रांसिस ने कहा- 'हमने अपने बच्चों की देखभाल नहीं की'

पोप फ्रांसिस ने एक अप्रत्याशित कदम उठाते हुए दुनियाभर के कैथलिकों को एक पत्र जारी किया है. पत्र में फ्रांसिस ने पादरियों से जुड़े यौन उत्पीड़न के मामलों को ढंकने की निंदा की और जवाबदेही की मांग की. पोप ने अमेरिका में कैथोलिक चर्च द्वारा दशकों के कदाचार के नये खुलासों के बीच यह पत्र जारी किया है.

फ्रांसिस ने पीड़ितों को हुए दर्द के लिए माफी मांगी और कहा कि सभी कैथोलिक उत्पीड़न और इसे ढंकने के प्रयासों को खत्म करने के प्रयासों में शामिल हों. उन्होंने उत्पीड़न संकट के लिए जिम्मेदार मानी जाने वाली खुद से जुड़ी पादरी संस्कृति की निंदा की. उन्होंने कहा कि चर्च के लोग बच्चों की सुरक्षा से ज्यादा अपनी प्रतिष्ठा को लेकर ज्यादा चिंतित हैं.

अमेरिका, चिली, ऑस्ट्रेलिया और आयरलैंड के चर्च बच्चों के यौन शोषण के आरोपों से घिरे हैं. पोप फ्रांसिस इन देशों की दो दिन की यात्रा पर हैं.

फ्रांसिस ने कहा, 'हमने बच्चों की देखभाल नहीं की. हमने उन्हें लावारिस छोड़ दिया. ये जख्म कभी नहीं भरते. इनकी कड़ी निंदा करने की जरुरत है.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi