S M L

क्यों खास है पीएम मोदी का यूएई दौरा, जानें 5 अहम बातें

पीएम मोदी ने फिलिस्तीन और जॉर्डन के साथ कई मुद्दों पर चर्चा की जिसमें आतंकवाद, रक्षा और राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर सहयोग बढ़ाने पर बात हुई

FP Staff Updated On: Feb 11, 2018 04:10 PM IST

0
क्यों खास है पीएम मोदी का यूएई दौरा, जानें 5 अहम बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फिलहाल यूएई के दौरे पर हैं. उन्होंने फिलिस्तीन की भी यात्रा की जो कि किसी भारतीय प्रधानमंत्री की पहली यात्रा है. जॉर्डन और ओमान से भी भारत के रिश्ते पहले से मजबूत हुए हैं. यूएई के साथ भारत ने कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए. आइए जानते हैं पीएम मोदी की इस यात्रा की 5 अहम बातें-

-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) दौरे में रविवार को वहात अल करमा मेमोरियल जाकर श्रद्धांजलि दी. इसके बाद पीएम मोदी ने दुबई के ओपेरा हाउस से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अबू धाबी में बनने जा रहे पहले हिंदू मंदिर की आधारशिला रखी.

उन्होंने इस मौके पर वहां मौजूद भारतीय समुदाय को संबोधित किया. इस दौरान भारतीय समुदायों के लोगों ने 'मोदी-मोदी' के नारे लगाकर पीएम का जोरदार स्वागत किया.

-अपने संबोधन के दौरान पीएम ने कहा, नोटबंदी में गरीब ने माना यह सही कदम था. हमने प्रिय नहीं लोगों के फायदे के कदम उठाए. बदलावों में कठिनाई आती हैं. 60 साल से अटकी जीएसटी अब पास हुई. उन्होंने कहा, भारत की विश्व रैंकिंग में ऐतिहासिक उछाल आया है. पहले निराशा के दिन भी हमने देखे. आज देश नहीं पूछता कि होगा या नहीं होगा. आज पूछते हैं मोदी जी बताओ कब होगा. पीएम ने कहा, जो सपने आप देख रहे हैं, जो सपने आपके स्वजन भारत की धरती पर देख रहे हैं, हम सब मिलकर उन सपनों को पूरा कर के रहेंगे, यह विश्वास आपको देता हूं.

-इससे पहले पीएम मोदी ने शनिवार को फिलिस्तीन और जॉर्डन के साथ कई मुद्दों पर चर्चा की जिसमें आतंकवाद, रक्षा और राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर सहयोग बढ़ाने पर बात हुई. फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास के साथ बातचीत में पीएम ने जम्मू के सुंजवान में हुए आतंकी हमले का भी जिक्र किया. अब्बास ने मोदी की बातों का समर्थन जताया और आतंकवाद के खिलाफ संयुक्त लड़ाई छेड़ने पर सहमति बनी.

-पीएम मोदी का जॉर्डन दौरा ऐतिहासिक है क्योंकि पिछले तीन दशक के इतिहास में भारत का कोई पहला प्रधानमंत्री जॉर्डन यात्रा पर आया. इससे पहले तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी 1988 में यहां की यात्रा पर आए थे. जॉर्डन के शाह अब्दुल्ला ने पीएम मोदी की यात्रा को भारत-जॉर्डन संबंधों में एक नया अध्याय बताया. मोदी के ओमान पहुंचने पर जॉर्डन के पीएम हनी अल मुल्की ने उनका स्वागत किया.

--इससे पहले शनिवार को फिलिस्तीन के बीच 6 समझौतों पर हस्ताक्षर हुए. ये समझौते 40 मिलियन डॉलर के हैं. फिलिस्तीनी राष्ट्रपति ने भारत की चल रही परियोजनाओं के लिए धन्यवाद दिया. भारत फिलहाल वहां दो नए प्रोजेक्ट शुरू करने जा रहा है. एक 100 बेड वाला अस्पताल और दूसरा वुमेन एमपॉलरमेंट सेंटर जिसमें फिलिस्तीनी महिलाओं का कौशल विकास किया जाएगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi