S M L

एक तस्वीर जिसने ट्रंप प्रशासन तक को झकझोरा, पॉलिसी बदलवाई

गेटी इमेजेज की इस तस्वीर ने ट्रंप प्रशासन की उस नीति को भी पलट दिया जिसमें सख्त निर्देश दिए गए थे कि अमेरिका में अवैध प्रवेश करने वाली किसी महिला को उसके बच्चे से अलग रखा जाए

FP Staff Updated On: Jun 21, 2018 09:39 PM IST

0
एक तस्वीर जिसने ट्रंप प्रशासन तक को झकझोरा, पॉलिसी बदलवाई

एक तस्वीर असंख्य शब्दों के बराबर है क्योंकि तस्वीरें शब्दों के भारी-भरकम बंडल को भी कुछेक भावनाओं के साथ जाहिर कर देती हैं. एक ऐसा ही वाकया अमेरिका में हुआ है जहां की अति प्रतिष्ठित पत्रिका टाइम ने अपने कवर पेज पर एक बच्ची की फोटो छापकर दुनिया में दिनोंदिन भयावह होती पलायन की समस्या को बाखूबी उकेरा है.

इस वाकये के केंद्रबिंदु में हैं पुलित्जर पुरस्कार से सम्मानित गेटी इमेजेज के फोटोग्राफर जॉन मूर. मूर कई वर्षों से अमेरिका-मैक्सिको बॉर्डर पार करते अप्रवासियों की तस्वीर खींचते रहे हैं. अभी हाल के उनके एक फोटो ने अमेरिका में अप्रवासी वाद-विवाद को नई हवा दे दी.

इस तस्वीर के बारे में मूर ने टाइम पत्रिका को बताया, यह काम मेरे लिए मुश्किल था. फोटो लेने के तुरंत बाद उन्हें (अप्रवासी) वैन में डाल दिया गया. मैं वहीं रुक गया और एक गहरी सांस ली. मूर उस वक्त वह फोटो ले रहे थे जिसमें यह देखा गया कि एक अप्रवासी महिला को टैक्सास पुलिस हिरासत में ले रही है जिसे देखकर उसकी दो साल की बेटी फफक कर रो रही है. महिला और उसकी बेटी होंडुरास की सरहद पारकर टैक्सास में घुस आए थे. मूर ने कहा, मैं उस वक्त बस यही चाह रहा था कि उस बेटी को गोद में उठा लूं लेकिन ऐसा नहीं कर सका.

http://time.com/5317522/donald-trump-border-cover/ से साभार

http://time.com/5317522/donald-trump-border-cover/ से साभार

इस तस्वीर की भावना इतनी मार्मिक है कि इसने टाइम पत्रिका को कवर पेज बनाने पर मजबूर कर दिया. इतना ही नहीं ट्रंप प्रशासन की उस नीति को भी पलट दिया जिसमें सख्त निर्देश दिए गए थे कि अमेरिका में अवैध प्रवेश करने वाली किसी महिला को उसके बच्चे से अलग रखा जाए. टाइम ने उस बच्ची की तस्वीर को राष्ट्रपति ट्रंप के साथ दिखाते हुए लिखा है-वेलकम टू अमेरिका.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi