S M L

पाकिस्तान: मुशर्रफ ने बनाया 23 दलों का ‘महागठबंधन’

इस महागठबंधन का नाम पाकिस्तान अवामी इत्तेहाद (पीएआई) होगा और इसी अध्यक्षता 74 वर्षीय मुशर्रफ करेंगे जबकि इकबाल डार को महासचिव के नियुक्त किया गया है

Updated On: Nov 11, 2017 04:07 PM IST

Bhasha

0
पाकिस्तान: मुशर्रफ ने बनाया 23 दलों का ‘महागठबंधन’

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने 23 राजनीतिक दलों का एक ‘महागठबंधन’ बनाया है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इस महागठबंधन का नाम पाकिस्तान अवामी इत्तेहाद (पीएआई) होगा और इसी अध्यक्षता 74 वर्षीय मुशर्रफ करेंगे जबकि इकबाल डार को महासचिव के नियुक्त किया गया है.

स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार दुबई से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि मुहाजिर समुदाय का प्रतिनिधित्व करने वाली सभी पार्टियों को एकजुट होना चाहिए.

उन्होंने मुत्तहिदा कौमी मूवमेंट (एमक्यूएम) और पाक सरजमीं पार्टी (पीएसपी) को इस नए राजनीतिक गठबंधन में शामिल होने का न्यौता दिया.

एक ही नाम से लड़ेगा महागठबंधन

गठबंधन की प्रकृति के बारे में उन्होंने कहा कि सभी सदस्य पार्टियां एक ही नाम से एक साथ चुनाव लड़ेंगी.

मुशर्रफ ने उन रिपोर्ट से इनकार किया कि वह एमक्यूएम की अगुवाई करने जा रहे हैं और दावा करते हुए कहा, यह सोचना हास्यास्पद है कि मैं किसी ‘अल्पसंख्यक, जातीय पार्टी’ की अगुवाई करूंगा.

उन्होंने जोर देकर कहा, ‘एमक्यूएम-पाकिस्तान का जो अस्तित्व (मूल रूप में) हुआ करता था वह अब सिर्फ उसकी आधी रह गई है.’

उन्होंने कहा, ‘मैं पार्टी की (आंतरिक समस्याओं) के बारे में चिंतित हूं. अगर उनकी पार्टी एकजुट रहती है तो फारुक सत्तार या मुस्तफा कमाल को बदलने में मेरी कोई दिलचस्पी नहीं है.’ एमक्यूएम की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा कि पार्टी और मुहाजिर समुदाय सम्मान खो चुके हैं.

उन्होंने उम्मीद जताई कि पाकिस्तान मुस्लिम लीग-क़ायद के नेता चौधरी शुजात एवं चौधरी परवेज इलाही भी उनके महागठबंधन में शामिल होंगे.

पूर्व राष्ट्रपति ने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अध्यक्ष इमरान खान को भी ऐसे समूह से हाथ मिलाने की सलाह दी जो पाकिस्तान को उन्नति की दिशा में ले जाए, जबकि सिर्फ अपनी पार्टी के बारे में सोचने के लिए उनकी आलोचना भी की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi