S M L

France: तेल की बढ़ती कीमतों के कारण दंगा, इमरजेंसी लगा सकती है सरकार

देश में तेल की बढ़ती कीमतों और रहन सहन के बढ़ते खर्च को लेकर युवा सड़क पर उतर आए और दंगा के नौबत आ गई. दंगे में अब तक 133 लोग घायल और 412 गिरफ्तार हुए हैं

Updated On: Dec 02, 2018 03:56 PM IST

FP Staff

0
France: तेल की बढ़ती कीमतों के कारण  दंगा, इमरजेंसी लगा सकती है सरकार

फ्रांस के सरकारी प्रवक्ता बेंजामिन ग्रिवॉक्स ने कहा कि देश में इमरजेंसी लगाने के बारे में विचार किया जा रहा है. फ्रांस नहीं चाहता कि एक दशक के बाद फिर से देश की शांति भंग हो. साथ ही फ्रांस सरकार ने शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों को बातचीत के लिए आगे आने का भी प्रस्ताव दिया है. गुटों में कई युवक चेहरे पर मास्क लगाए खड़े हैं. कुछ के हाथ में हथियार भी हैं और शनिवार को उन्होंने पेरिस की सड़कों पर दंगा भी किया. दर्जनों गाड़ियों और इमारतों को आग लगा दी.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक ग्रिवॉक्स ने यूरोप1 रेडियो को बताया, 'हमें इस तरह की घटनाओं के लिए उपायों के बारे में सोचना होगा.' फ्रांस में दो हफ्ते से 'Yellow Vest' विरोध प्रदर्शन चल रहा है. सभी विरोधियों ने फ्लोरोसेंट जैकेट अपनी गाड़ियों में रखे थे. लोग देश में तेल के दामों और रहने के खर्चों में अंधाधुंध बढ़ोतरी के बाद सड़कों पर उतर आए थे. देश भर में प्रदर्शन का दौर चल पड़ा था. अधिकारी सकते में थे.

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों लेंगे आपात बैठक:

राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों रविवार को देश के प्रधान मंत्री और आंतरिक मंत्री के साथ दंगों पर चर्चा करेंगे. साथ ही इस बात की भी चर्चा की जाएगी की विरोधी आंदोलनकारियों के साथ आपातकालीन बैठक और बातचीत शुरू कैसे शुरु की जाए. खास बात यह है कि विरोधियों का कोई नेता नहीं है. ग्रिवॉक्स से जब इमरजेंसी लगाने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि रविवार को मीटिंग में जिन बातों पर विचार किया जाएगा यह उसमें से एक विकल्पों होगा.

17 नवंबर को विरोध प्रदर्शन शुरू हुआ था और सोशल मीडिया के कारण यह पूरे देश में फैल गया. विरोधियों ने फ्रांस की सड़कों को बंद कर दिया और शॉपिंग मॉल, कारखानों और कुछ ईंधन डिपो को भी बंद करा दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi