S M L

पाकिस्तान: 18 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे इमरान खान

पीटीआई के सीनेटर फैसल जावेद खान ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. उन्होंने ट्वीट किया 'इमरान खान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की शपथ 18 अगस्त 2018 को लेंगे इंशाअल्लाह.'

Updated On: Aug 10, 2018 04:00 PM IST

FP Staff

0
पाकिस्तान: 18 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे इमरान खान

इमरान खान 18 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे. इससे पहले कयास लगाए जा रहे थे कि इमरान खान 14 अगस्त को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की शपथ ले सकते हैं. पीटीआई के नेता फैसल जावेद ने कहा कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ चेयरमैन इमरान खान 18 अगस्त को शपथ लेंगे.

पीटीआई के सीनेटर फैसल जावेद खान ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. उन्होंने ट्वीट किया 'इमरान खान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की शपथ 18 अगस्त 2018 को लेंगे इंशाअल्लाह.'

न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक, भारत के उच्चायुक्त अजय बिसरिया और उप उच्चायुक्त जे.पी सिंह शाम 4:30 बजे इमरान से मुलाकात करेंगे.

पाकिस्तान के अगले संभावित प्रधानमंत्री इमरान खान ने चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के मामले में शुक्रवार को निर्वाचन आयोग से लिखित में माफी मांग ली और साथ ही एक हलफनामा भी दाखिल किया.

पाकिस्तान में हुए आम चुनाव के 19 दिन बाद देश की नवनिर्वाचित संसद का पहला सत्र सोमवार को शुरू होगा. इस बार के चुनाव में इमरान खान के नेतृत्व वाली पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है. संसद के निचले सदन नेशनल असेंबली (एनए) के पहले दिन संसद के नए सदस्य शपथ ग्रहण करेंगे. साथ में स्पीकर एवं डिप्टी स्पीकर का भी चुनाव होगा.

इसके बाद अगले कुछ दिनों के अंदर नेशनल असेंबली सदन के नेता (प्रधानमंत्री) के चयन की प्रक्रिया शुरू करेगी जो नामांकनों के लिए स्पीकर द्वारा जारी कार्यक्रम पर निर्भर करेगा. इमरान खान प्रधानमंत्री बनने की तैयारी में हैं क्योंकि उनकी पार्टी पीटीआई का दावा है कि उसे सदन के 342 सांसदों में कम से कम 180 का समर्थन प्राप्त है. इन 342 सीटों में 272 वो सीटें भी शामिल हैं जिनके लिए 25 जुलाई को आम चुनाव हुए थे. इसके अलावा नेशनल असेंबली में 60 सीटें महिलाओं के लिए और 10 सीटें धार्मिक अल्पसंख्यकों के लिये सुरक्षित हैं.

पाकिस्तान चुनाव आयोग (ईसीपी) ने इमरान खान, मौलाना फजलूर रहमान, सरदार सादिक और परवेज खटक को चुनावी कैंपेन के दौरान भड़काऊ भाषण देने के मामले में चेतावनी देते हुए बरी कर दिया था.

मुख्य चुनाव आयुक्त जस्टिस सरदार मोहम्मद रजा (रिटा.) की अध्यक्षता वाली चार सदस्यीय बेंच ने चारों नेताओं को आगे ऐसा भाषण न देने की कड़ी चेतावनी जारी करते हुए बरी किया.

इसके बाद पाकिस्तान के चीफ जस्टिस साकिब निसार ने रिटायर चीफ इलेक्शन कमिश्नर जस्टिस सरदार मोहम्मद रजा पर सख्त टिप्पणी की है. जस्टिस साकिब निसार ने कहा कि उन्होंने चुनाव वाले दिन इलेक्शन कमिश्नर को तीन बार फोन किया था. उन्होंने फोन नहीं उठाया शायद वह सो रहे थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi