S M L

पाकिस्तान में अब तंबाकू और स्वीट ड्रिंक्स प्रोडक्ट्स पर लगेगा 'सिन टैक्स'

पाकिस्तान स्वास्थ्य बजट को बढ़ाने के लिए अब सिगरेट और शर्बतों पर जल्द ही ‘पाप कर (सिन टैक्स)’ लगाएगा. देश के स्वास्थ्य मंत्री अमीर महमूद कियानी ने मंगलवार को यह जानकारी दी

Updated On: Dec 05, 2018 03:57 PM IST

FP Staff

0
पाकिस्तान में अब तंबाकू और स्वीट ड्रिंक्स प्रोडक्ट्स पर लगेगा 'सिन टैक्स'

पाकिस्तान स्वास्थ्य बजट को बढ़ाने के लिए अब सिगरेट और शर्बतों पर जल्द ही ‘पाप कर (सिन टैक्स)’ लगाएगा. देश के स्वास्थ्य मंत्री अमीर महमूद कियानी ने मंगलवार को यह जानकारी दी.

स्थानीय मीडिया के अनुसार उन्होंने जन स्वास्थ्य सम्मेलन में कहा कि उनकी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ सरकार देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के पांच प्रतिशत वाला स्वास्थ्य बजट बनाना चाहती है और इस काम के लिए उसे आमदनी बढ़ानी होगी. इसके लिए सरकार कई तरह के उपाय अमल में ला रही है. इनमें से एक तरीका यह है कि तंबाकू उत्पादों और मीठे पेयों पर एक पाप कर (सिन टैक्स) लगा दिया जाए और इससे जो आमदनी होगी उसे स्वास्थ्य बजट में शामिल कर दिया जाए.

अभी सरकार स्वास्थ्य पर जीडीपी का केवल दशमलव छह फीसदी ही खर्च करती है. मीडिया रिपोर्टो में एक महानिदेशक डॉ असद हफीज के हवाले से कहा गया है कि विश्व के करीब 45 देशों में इस तरह का कर लगाया जाता है.

भारत में भी जीएसटी लागू होने के बाद कई ऐसे प्रोडक्ट हैं जिनपर सिन टैक्स वसूला जाता है. जीएसटी में एल्कोहल और तंबाकू जैसी नुकसानदेह चीजें बनाने वाले उद्योग को सिन टैक्स देना पड़ता है.

इसका मुख्य मकसद लोगों को ऐसे प्रोडक्ट्स या सेवाओं के उपयोग को लेकर हतोत्साहित करना है. इसके अलावा इन प्रोडक्ट्स पर अधिक टैक्स लगाना टैक्स रेवेन्यू को बढ़ाने का सबसे आसान तरीका माना जाता है क्योंकि लोग इस प्रकार की चीजों पर टैक्स लगाने का विरोध नहीं करते.

(इनपुट भाषा से)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi