S M L

पाक चुनाव: PML-N नेता ने कहा- महिलाओं को वोट करना हराम

अगर हराम की बात छोड़ भी दें तो भी पाकिस्तान में महिलाएं चुनावी प्रक्रिया में उतनी सक्रियता से भाग नहीं ले पाती हैं

Updated On: Jul 04, 2018 02:19 PM IST

FP Staff

0
पाक चुनाव: PML-N नेता ने कहा- महिलाओं को वोट करना हराम

पाकिस्तान में इस महीने आम चुनाव होने हैं. पड़ोसी देश में खूब गहमागहमी मची हुई है. आए दिन सरहद पार से कोई न कोई दिलचस्प खबर आ रही है. जैसे अभी कुछ दिनों पहले नवाज शरीफ के भाई और प्रधानमंत्री पद की दौड़ में चल रहे शाहबाज शरीफ का कराचीवालों के पान खाने की आदत पर दिया गया बयान और उस पर कराचीवालों की प्रतिक्रिया काफी चर्चा में रही है.

अब उन्हीं की पार्टी एक दूसरे नेता ने एक और आपत्तिजनक बयान दिया है. पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) के प्रत्याशी और पंजाब प्रांत के पूर्व मंत्री हारून सुल्तान ने अपने चुनावी प्रतिद्वंदी को हराने के लिए नया फॉर्मूला निकाला है.

उन्होंने ये कहकर विवाद पैदा कर दिया है कि महिलाओं के लिए मतदान करना ‘हराम’ है. उनकी प्रतिद्वंदी तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी की प्रत्याशी जेहरा बासित हैं. जेहरा सुल्तान के खिलाफ नेशनल असेंबली की एनए 18 सीट से चुनाव लड़ रही हैं. दिलचस्प ये है कि जेहरा के बारे में बताया जाता है कि वो सुल्तान की भाभी हैं.

हारून सुल्तान पंजाब में पीएमएल-एन सरकार में सामाजिक कल्याण मंत्री थे.

टाइम्स ऑफ इस्लामाबाद’ की खबर के मुताबिक, अपने निर्वाचन क्षेत्र मुजफ्फरगढ़ में एक रैली को संबोधित करते हुए सुल्तान ने कहा कि वो मजहब के निर्देशों का पालन करेंगे और किसी भी महिला उम्मीदवार को वोट नहीं देंगे , क्योंकि इसे हराम (इस्लाम में मना) माना जाता है.

उन्होंने कहा, ‘मैं अल्लाह और नबी के निर्देशों के तहत काम करूंगा और इसके विपरीत काम करने से बचूंगा.’ पाकिस्तान पीपल्स पार्टी ने इस निर्वाचन क्षेत्र से नवाज इफ्तिखार खान को उतारा है.

वैसे अगर हराम की बात छोड़ भी दें तो भी पाकिस्तान में महिलाएं चुनावी प्रक्रिया में उतनी सक्रियता से भाग नहीं ले पाती हैं. पाकिस्तान में मतदान संवैधानिक अधिकार है लेकिन लाखों महिलाओं को पुरुष मताधिकार का इस्तेमाल नहीं करने देते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi