S M L

पाकिस्तान चुनाव: पहली बार 3 पार्टियों के बीच है सीधा मुकाबला

पीएमएल-एन का आरोप है इमरान खान को फायदा पहुंचाने के लिए फौज चुनाव में दखल दे रही है

FP Staff Updated On: Jul 22, 2018 07:23 PM IST

0
पाकिस्तान चुनाव: पहली बार 3 पार्टियों के बीच है सीधा मुकाबला

पाकिस्तान में बुधवार यानी 25 जुलाई से चुनाव शुरू हो रहे हैं. ऐसे में पार्टियों का सबसे ज्यादा फोकस पाकिस्तान के पंजाब प्रांत पर है. नेशनल असेंबली की 272 सीटों में से 141 सीटें यहीं हैं. इसका सीधा मतलब यह है कि पंजाब का किला फतह करने के बाद सरकार बनाने की राह आसान हो जाएगी.

पाकिस्तान में पहली बार तीन पार्टियों के बीच सीधा मुकाबला देखने को मिल रहा है. नवाज शरीफ के जेल जाने के बाद पीएमएल-एन के कार्यकर्ता और ज्यादा जोश में दिखाई दे रहा हैं. खासकर पंजाब में उनकी सक्रियता सबसे ज्यादा दिखाई दे रही है. दैनिक भास्कर के मुताबिक, पीटीआई पार्टी और आतंकी हाफिज सईद के संगठन जमात-उद-दावा के फ्रंट अल्लाह-हू-अकबर के कार्यकर्ता भी चुनाव जीतने की हर संभव कोशिश कर रहे हैं.

जारी है आरोप प्रत्यारोप का दौर

चुनावों को देखते हुए पार्टियों के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो चुका है. पीएमएल-एन का आरोप है इमरान खान को फायदा पहुंचाने के लिए फौज चुनाव में दखल दे रही है. पार्टी का ये भी कहना है कि पंजाब के केयरटेकर सीएम हसन असकारी रिजवी सेना के निर्देशों पर काम कर रहे हैं. वह पीटीआई के कार्यकर्ता बन गए हैं.

तो वहीं पीटीआई कार्यकर्ता सानिया वसीम का कहना है कि इस बार इमरान खान ही वजीर-ए-आजम बनेंगे.  पंजाब में पीटीआई की जीत निश्चित है, क्योंकि लोग नवाज शरीफ जैसे मुजरिमों को कभी वोट नहीं देंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi