S M L

राजनयिक उत्पीड़न मामलाः पाक ने भारत में तैनात उच्चायुक्त को बुलाया वापस

पाकिस्तान ने राजयनिकों के उत्पीड़न को लेकर भारत के साथ जारी गतिरोध पर बातचीत के लिए महमूद को वापस बुलाया है

Updated On: Mar 15, 2018 03:22 PM IST

FP Staff

0
राजनयिक उत्पीड़न मामलाः पाक ने भारत में तैनात उच्चायुक्त को बुलाया वापस

भारत-पाकिस्तान के बीच तनातनी जारी है. सीमापार के इतर दोनों देश राजनयिक स्तर पर भी लड़ रहे हैं. पाकिस्तान ने भारत पर आरोप लगाया कि उसके उच्चायुक्त को परेशान किया जा रहा है. इसके बाद पाक ने अपने उच्चायुक्त सुहैल महमूद को वापस बुला लिया है.

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक पाकिस्तान ने राजनयिकों के उत्पीड़न को लेकर भारत के साथ जारी गतिरोध पर बातचीत के लिए महमूद को वापस बुलाया है.

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मुहम्मद फैजल ने कहा कि भारतीय सरकार पाकिस्तानी राजनयिकों, उनके परिवारों और कर्मचारियों की धमकी के बढ़ते हुए घटनाओं पर ध्यान नहीं दे पाई है.

भारत का आरोप उसके अधिकारियों को पाक में किया जा रहा परेशान 

वहीं भारत का कहना है कि असल में तो पाकिस्तान में भारतीय उच्चायोग को काफी प्रताड़ना का सामना करना पड़ रहा है. पिछले एक साल में यह स्थिति और बिगड़ी है लेकिन भारतीय राजनयिकों ने मीडिया के सामने इस मामले का खुलासा नहीं किया था.

हाल ही में पाकिस्तान में भारतीय राजनयिकों के लिए बन रहे एक आवासीय परिसर में पाक खूफिया एजेंसी आईएसआई ने छापेमारी की थी. हालांकि यह किसलिए की गई, इसका खुलासा नहीं किया गया. इसके बाद भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया ने पाक विदेश मंत्रालय के सामने इस मामले को उठाया था.

इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग के कर्मियों का उत्पीड़न सामान्य सी बात हो गई है। आक्रामक निगरानी, खतरनाक तरीके से अधिकारियों का पीछा हमेशा मुद्दा रहा है. यहां तक कि अजय बिसारिया की गाड़ी का भी कई बार पीछा किया गया है. एजेंसियों के लोग अफसरों की विडियोग्राफी करते रहते हैं। फोन को चेहरे के करीब तक ला दिया जाता है. अश्लील फोन कॉल और मेसेज फोन पर अक्सर मिलते रहते हैं.

इस तरह के माहौल के कारण ज्यादातर परिवार भारत लौट आए हैं और स्कूलों से बच्चों को हटा दिया गया है. भारत ने पाकिस्तान से बार-बार अनुरोध किया है कि उच्चायोगों को एेसा माहौल दिया जाए, जो भय और धमकी से मुक्त हो.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi