S M L

जाधव केस: पाक ने पूर्व चीफ जस्टिस को नियुक्त किया एड हॉक जज

पाकिस्तान बार काउंसिल ने तसादुक हुसैन जिलानी की एड-हॉक जज के तौर पर नियुक्ति की मंजूरी नेशनल असेंबली से लेने की मांग की है

Updated On: Oct 07, 2017 06:54 PM IST

FP Staff

0
जाधव केस: पाक ने पूर्व चीफ जस्टिस को नियुक्त किया एड हॉक जज

पाकिस्तान ने इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) में कुलभूषण जाधव मामले में टीम लीड करने के लिए पूर्व चीफ जस्टिस तसादुक हुसैन जिलानी को एड-हॉक जज नियुक्त किया है.

जस्टिस जिलानी पूर्व विदेश सचिव जलील अब्बास जिलानी के चचेरे भाई हैं. उनकी नियुक्ति को लेकर पाकिस्तान बार काउंसिल के प्रतिनिधि रहील कामरान शेख ने मांग की है कि जिलानी की एड-हॉक जज के तौर पर नियुक्ति की मंजूरी देश की संसद (नेशनल असेंबली) से ली जाए.

अटॉर्नी जनरल के कार्यालय में एक हाई लेवल बैठक में भारत की तरफ से आईसीजे में दिए गए 22 पेज की रिपोर्ट पर चर्चा कर रणनीति तैयार की गई.

शुक्रवार को अटार्नी जनरल अश्तर औसाफ अली के दफ्तर में एक हाई लेवल मीटिंग हुई. इस बैठक में भारत द्वारा इस मामले में आईसीजे को सौंपे गए 22 पन्नों की रिपोर्ट और भविष्य की रणनीति को लेकर विस्तार से चर्चा हुई. इस मीटिंग में विदेश विभाग, कानून मंत्रालय और मामले से जुड़े अन्य संबंधित प्रतिनिधि भी शामिल थे.

Passport Kulbhushan Jadhav

आईसीजे ने पाकिस्तान को अपना जवाब देने के लिए 13 दिसंबर तक की समय सीमा दी है. इसके बाद ही मामले की अंतिम सुनवाई शुरू होगी. जाधव के मामले की सुनवाई इस साल के आखिर या अगले साल की शुरूआत में हो सकती है.

भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने पिछले साल मार्च महीने में गिरफ्तार कर लिया था. पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने जाधव पर बम धमाके और तोड़-फोड़ की साजिश रचने का दोष मढ़कर उसे फांसी की सजा सुना दी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi