S M L

रहने दो राहिल शरीफ़... तुमसे न हो पाएगा !

रिटायरमेंट से 5 दिन पहले पाक आर्मी चीफ ने भारत को चेतावनी दे डाली है.

Updated On: Nov 26, 2016 06:58 AM IST

Kinshuk Praval Kinshuk Praval

0
रहने दो राहिल शरीफ़... तुमसे न हो पाएगा !

पाकिस्तान के आर्मी चीफ राहिल शरीफ़ ने भारत को धमकी देते हुए कहा कि पाकिस्तान की फौजें भारतीय सेना को सबक सिखाने की कूव्वत रखती है. उन्होंने कहा कि अगर पाकिस्तान ने सर्जिकल स्ट्राइक किया तो भारत की पीढ़ियां इसे भुला नहीं सकेंगीं.

पाक आर्मी चीफ ने भारत के सर्जिकल स्ट्राइक के दावे को खारिज करते हुए कहा कि ‘पाक ने अगर सर्जिकल स्ट्राइक की तो भारत अपनी आने वाली पीढ़ियों को सिलेबस में पढ़ाएगा कि सर्जिकल स्ट्राइक के मायने क्या होते हैं.’

उरी में हुए आतंकी हमले के बाद भारत ने सीक्रेट ऑपरेशन करते हुए  LoC पार कर सर्जिकल स्ट्राइक किया था. सेना ने इस ऑपरेशन में 38 आतंकियों को मार गिराया था और आतंकी कैम्प ध्वस्त कर दिये थे. सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तान में सियासी भूचाल भी आ गया था. पाकिस्तान से अलग अलग बयान जारी होने लगे थे. पाकिस्तान सर्जिकल स्ट्राइक को खुल कर कबूल भी नहीं कर पा रहा था और खारिज भी.

29 नवंबर को रिटायर हो जाएंगे राहिल शरीफ

लेकिन अब रिटायरमेंट से 5 दिन पहले पाक आर्मी चीफ ने भारत को चेतावनी दे डाली है. सवाल ये है कि रिटायरमेंट से पहले राहिल शरीफ की ये गर्जना किसके लिये है? इससे पहले पाक के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ़ भी कह चुके हैं कि नागरिक इलाकों में गोलीबारी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. नवाज का आरोप था कि भारत की फौज जानबूझकर नागरिकों को निशाना बना रही है और पाकिस्तान हमले को बर्दाश्त नहीं करेगा.

राहिल शरीफ़ अपनी सेना में जाते जाते जोश भर रहे हैं. वो खुद भी जानते हैं कि सर्जिकल स्ट्राइक से पाकिस्तानी सेना का मनोबल काफी गिरा है. यही वजह है कि उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी फौजें इंडियन आर्मी को सबक सिखाने की काबिलियत रखती है.

भारत के जवाब से पस्त है पाकिस्तान

राहिल शरीफ़ ऐसे वक्त में ये बयान दे रहे हैं जब भारत उसे हर मोर्चे पर पनाह बुला रहा है. पाकिस्तान के सीमापार आतंकवाद पर भारत नकेल कसे हुए है. जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की घुसपैठ कराने की पाकिस्तान की कोशिश नाकाम हो रही है. सीजफायर उल्लंघन का भारत मुंहतोड़ जवाब दे रहा है. जम्मू-कश्मीर के माछिल सेक्टर में तीन जवानों के शहीद होने के बाद भारत ने पाकिस्तान से दोगुना हिसाब लिया. जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के 6 सैनिक मार गिराए जिनमें एक कैप्टन भी था.

भारत के नए रूप से सकते में पाकिस्तान

भारत की जवाबी कार्रवाई से पाकिस्तान पूरी तरह बौखला चुका है. भारत में आतंकी भेजकर उस पार से हमलों को संचालित कर तमाशा देखने वाला पाकिस्तान भारत के नए रूप से सकते में है. पाकिस्तान के सामने अब नया भारत है जो हर हरकत का माकूल जवाब दे रहा है. सेना का मनोबल इतना ऊंचा है कि वो सीमा पर पाकिस्तान की फायरिंग का जवाब उसकी चौकियां उड़ा कर दे रहा है.

भारत की शराफत को नहीं समझे दोनों 'शरीफ'

पाकिस्तान ने उस भारत को भी देखा है जिसने पड़ौसी देशों के साथ रिश्ते बेहतर करने की हर मुमिकन कोशिश की. मुंबई हमलों को लेकर पाकिस्तान को आतंकियों से जुड़ा डोजियर सौंपा तो फोन कॉल्स के वॉयस सैम्पल भी दिये. लेकिन पाकिस्तान ने भारत के वांछित आतंकियों को लेकर कोई कार्रवाई नहीं की.भारत ने दोस्ती का जब जब हाथ बढ़ाया तो बदले में करगिल, मुंबई अटैक, पठानकोट और उरी हमला मिला.

पाकिस्तान भारत के धैर्य और संयम को कमजोर नस समझता रहा. साथ ही इस मुगालते में उसकी हिमाकत बढ़ती रही कि उसके पास एटम बम है और वो पहले प्रयोग की धमकी से भारत को डरा सकता है.पाकिस्तान के हुक्मरान खुल कर परमाणु हमले की धमकी देने लगे.

लेकिन

अब भारत ने परमाणु हमले की ब्लैकमेलिंग का किस्सा भी खतम कर दिया है. देश के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर साफ कर चुके हैं कि जरुरत पड़ने पर भारत पहले प्रयोग पर विचार कर सकता है.

Indian-army

भारत की जवाबी कार्रवाई का ही नतीजा है कि घबराए पाकिस्तानी डीजीएमओ को भारत के डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह से हॉटलाइन पर बात करने को मजबूर होना पड़ा. भारत का सीधा जवाब था कि पाकिस्तान की तरफ से सीमा पर गोलाबारी का अब ऐसा ही माकूल जवाब दिया जाएगा. जाहिर तौर पर भारतीय सेना का मनोबल बढ़ाने के लिये अब ऐसे ही ठोस कदम उठाने की जरुरत है.

उरी हमले के बाद पीएम मोदी ने ऐलान किया था कि 18 जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी. वक्त और जगह देखकर जवाब दिया जाएगा. पहला जवाब सर्जिकल स्ट्राइक रहा और दूसरा जवाब एलओसी पर भारतीय सेना दे रही है.
लेकिन दूसरे मोर्चे पर भी पाकिस्तान की घेराबंदी जारी है.

आतंकवाद के मसले पर अंतर्राष्ट्रीय फोरम पर पाकिस्तान को अलग थलग करने की कोशिश जारी है. भारत की कोशिशों का असर भी दिखाई दे रहा है. सार्क सम्मेलन का रद्द होना और  संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की किरकिरी साबित करती है कि पाकिस्तान को लेकर अब अमेरिका समेत दूसरे देशों का भी मोहभंग होता जा रहा है.

इसके बावजूद पाक आर्मी चीफ राहिल शरीफ़ पाकिस्तान की छवि सुधारने के बजाए भारत को सबक सिखाने की धमकी दे रहे हैं. माना जा रहा है कि खुफिया एजेंसियों को ऐसी खबर मिली है कि राहिल शरीफ़ ने अपने रिटायरमेंट से पहले आईएसआई को बदला लेने का आदेश दिया है.

आईएसआईए को भारत मे आतंकी हमले कराने और भारतीय सेना के जवानों को मारने का आदेश मिला है. आईएसआई की साजिश को लेकर सेना और एजेंसियां सतर्क हैं. राहिल शरीफ फेयरवेल टूर पर निकल चुके हैं क्योंकि उन्होंने एक्सटेंशन से इनकार कर दिया है.

दरअसल राहिल शरीफ़ की ख्वाहिशें भी परवेज मुशर्रफ की तरह सियासत में अंगड़ाई लेने लगी हैं. सेना की सर्विस के बाद वो राजनीति में अपनी भूमिका देखना चाह रहे हैं और हर पुराने जनरल की तरह उनके पास भी ‘भारत-विरोध’ का वही घिसा-पिटा फॉर्मूला है जिसके बूते राहिल सियासत की जमीन पर ‘शरीफ’ शख्सियत तैयार करना चाहते हैं.

रहने दो राहिल......तुमसे न हो पाएगा !

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi