S M L

अब हिंदी, बांग्ला में भी मिलेंगी ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस की किताबें

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस अपनी पूर्व-प्रकाशित पुस्तकों का अनुवाद भी प्रिंट और डिजिटल संस्करण पाठकों को उपलब्ध कराएगा

Updated On: Nov 24, 2017 12:27 PM IST

Bhasha

0
अब हिंदी, बांग्ला में भी मिलेंगी ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस की किताबें

हिंदी समेत भारतीय भाषाओं के बढ़ते महत्व के मद्देनजर ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस अगले साल जनवरी में भारतीय भाषा प्रकाशन कार्यक्रम की शुरुआत कर रहा है.

इसके तहत शुरूआत में हिंदी एवं बांग्ला भाषाओं में पुस्तकों का प्रकाशन किया जाएगा. भविष्य में अन्य भारतीय भाषाओं को भी इसमें जोड़ा जाएगा.

इसके तहत हिंदी एवं बांग्ला में नई किताबों के प्रकाशन के साथ ही ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस अपनी पूर्व-प्रकाशित पुस्तकों का अनुवाद भी प्रिंट और डिजिटल संस्करण पाठकों को उपलब्ध कराएगा.

रोमिला थापर और रामचंद्र गुहा जैसे विद्वानों के किताब होंगे उपलब्ध 

पहले साल में इस कार्य्रकम के तहत पाठकों को रोमिला थापर, आर. एस. शर्मा, सुमित गांगुली, मुशीरुल हसन, आंद्रे बेते की किताबों का अनुवाद उपलब्ध कराया जाएगा.

इसके साथ ही ऑस्टिन ग्रैनविल, आशुतोष वार्ष्णेय, माधव गाडगिल, रामचंद्र गुहा और आशीष नंदी जैसे बड़े और प्रतिष्ठित विद्वानों की किताबों का अनुवाद किया संस्करण उपलब्ध कराएगा.

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस के निदेशक डॉ. सुगाता घोष के अनुसार, 'भारतीय आबादी का बड़ा हिस्सा अपनी स्थानीय भाषाओं में पढ़ने लिखने का अभ्यस्त है. ये पाठक भाषाई सीमाओं की वजह से अन्य भाषाओं में प्रकाशित रचनाओं को पढ़ नहीं पाते.’

पाठकों के लिए भारत के कई शहरों में आयोजित होंगे कार्यक्रम 

उन्होंने कहा कि अकादमिक प्रेस होने के नाते शैक्षणिक गुणवत्ता और ज्ञान का प्रसार हमारा उद्देश्य है. प्रेस के इसी उद्देश्य के तहत हमने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस की ओर से प्रकाशित उत्कृष्ट किताबों को स्थानीय भाषाओं में उपलब्ध कराने का निर्णय किया है.

एक बयान के अनुसार, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस अपने भारतीय भाषा कार्यक्रम के तहत आने वाली किताबों को अगले विश्व पुस्तक मेला, नई दिल्ली और कोलकाता पुस्तक मेला में पाठकों को उपलब्ध कराएगा.

आने वाले कुछ महीनों में लखनऊ, इलाहाबाद, रांची, देहरादून, जयपुर, भोपाल, कोलकाता और गुवाहाटी जैसे शहरों में पाठकों के लिए कार्यक्रम कराए जाएंगे जहां पाठकों को कुछ लेखकों से रूबरू होने का मौका मिलेगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi