S M L

पाकिस्तान: डी कंपनी के सदस्य छोटा शकील के बेटे ने चुना अध्यात्म का रास्ता

मुबशीर अभी कराची में लोगों को कुरान पढ़ाता है. पाकिस्तान के कराची में वह अपने पिता बाबूमियां शकील अहमद शेख उर्फ छोटा शकील के साथ रहता है. छोटा शकील दाऊद की डी कंपनी में मुख्य संचालक था

Updated On: Aug 26, 2018 05:06 PM IST

FP Staff

0
पाकिस्तान: डी कंपनी के सदस्य छोटा शकील के बेटे ने चुना अध्यात्म का रास्ता

भगोड़े माफिया डॉन दाऊद इब्राहिम के बेटे के मौलाना बनने के एक साल बाद अब खबर आई है कि छोटा शकील के इकलौते बेटे ने पाकिस्तान के कराची में अध्यात्म के रास्ते पर चलने का फैसला किया है. न्यूज़18 के मुताबिक, पाकिस्तान के कराची में ही छोटा शकील रहता भी है.

छोटा शकील के 18 वर्षीय बेटे मुबशीर शेख के हाल ही 'हाफिज-ए-कुरान' पढ़ने के बाद एक हलचल पैदा हुई और उसने पूरी कुरान को याद कर लिया, जिसमें 6,236 छंद शामिल हैं- ऐसा करना इस्लाम के किसी भी अनुयायी के लिए एक मील का पत्थर माना जाता है.

मुबशीर का मतलब होता है 'अच्छी चीजों का सूचक', लेकिन मुंबई अंडरवर्ल्ड में कई लोग निराश हैं कि एक अन्य डॉन के बेटे ने अध्यात्म के रास्ते पर चलने का फैसला किया है.

युवा मुबशीर अभी कराची में लोगों को कुरान पढ़ाता है. पाकिस्तान के कराची में वह अपने पिता बाबूमियां शकील अहमद शेख उर्फ छोटा शकील के साथ रहता है. छोटा शकील दाऊद की डी कंपनी में मुख्य संचालक था.

इससे पहले पिछले साल खबर आई थी कि 1980 में मुंबई से भागने के बाद से दाऊद और छोटा शकील कराची के क्लिफटॉन इलाके में रहते थे. लेकिन अब दाऊद ने ये इलाका छोड़ दिया है और वो किसी दूसरी जगह शिफ्ट हो गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi