विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

अमेरिका के ‘बराबर’ सैन्य ताकत, हमें आंख ना दिखाए: किम जोंग उन

नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने कहा कि अमेरिका पर जवाबी हमला ऐसा हो जिससे वह कभी उबर न पाए

Bhasha Updated On: Sep 16, 2017 04:17 PM IST

0
अमेरिका के ‘बराबर’ सैन्य ताकत, हमें आंख ना दिखाए: किम जोंग उन

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने आज अमेरिका को चेतावनी देते हुए कहा कि सैन्य ताकत के लिहाज से वह लगभग अमेरिका के ‘बराबर’ पहुंच गया है. अब वह उत्तर कोरिया को आंख दिखाने की कोशिश ना करे.

किम जोंग ने बढ़ते अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों के बावजूद अपने परमाणु हथियार कार्यक्रम को पूरा करने का संकल्प लिया.

किम जोंग ने कहा कि देश ‘व्यापक’ अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों के बावजूद भी परमाणु हथियारों का निर्माण लगभग पूरा कर चुका है. सभी ‘सरकारी एजेंसियों’ से कहा कि वह ‘अमेरिका पर जवाबी हमला करने के लिए एक ऐसी परमाणु क्षमता का निर्माण करें, जिससे वह कभी उबर न पाए.’

यह बयान ठीक उस वक्त आया है जब उत्तर कोरिया ने प्योंगयांग से एक और मिसाइल का प्रक्षेपण कर लिया. इसका पता अमेरिका और दक्षिण कोरियाई सेनाओं ने लगाया.

इस मिसाइल ने करीब 3,700 किलोमीटर की दूरी तय की और उत्तरी प्रशांत सागर में गिरने से पहले जापान के ऊपर से होकर गुजरी. अभी तक जिन बैलिस्टिक मिसाइलों का परीक्षण किया गया है, उनमें से इस मिसाइल ने जमीन के ऊपर से सर्वाधिक दूरी तय की थी.

कुछ दिन पहले ही किया था ह्वासोंग-12 मिसाइल का प्रक्षेपण 

उत्तर कोरिया ने 29 अगस्त को मध्यम दूरी वाली ह्वासोंग-12 मिसाइल का परीक्षण करने की पुष्टि भी की थी, जो जापान के मुख्य द्वीपसमूहों के ऊपर से होकर गुजरी थी.

‘केसीएनए’ ने कहा कि किम प्रक्षेपण को लेकर बेहद संतुष्ट हैं और उन्होंने मिसाइल की ‘युद्ध क्षमता एवं विश्वसनीयता’ तथा उसकी क्षमता बढ़ाने के प्रयासों की पुष्टि की है.

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने ताजा मिसाइल प्रक्षेपण के जरिए उत्तर कोरिया पर क्षेत्रीय शांति एवं सुरक्षा भंग करने का आरोप लगाया और कहा कि उसके परमाणु एवं मिसाइल परीक्षण ‘‘विश्वभर में गंभीर सुरक्षा चिंताओं का कारण है’’ और संयुक्त राष्ट्र के सभी 193 सदस्यों के लिए खतरा हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi