S M L

उत्तर कोरिया दुनिया में युद्ध छेड़ना चाहता है: निक्की हेली

उत्तर कोरिया ने बीते रविवार को परमाणु बम से कई गुणा अधिक शक्तिशाली हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया था

Updated On: Sep 05, 2017 08:28 PM IST

Bhasha

0
उत्तर कोरिया दुनिया में युद्ध छेड़ना चाहता है: निक्की हेली

संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत निक्की हेली ने उत्तर कोरिया द्वारा किए गए परमाणु विस्फोट की कड़ी निंदा की है. मंगलवार को उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया मिसाइलों के दुरूपयोग और परमाणु विस्फोट की धमकियों के जरिए युद्ध छेड़ने को आतुर है.

उत्तर कोरिया ने बीते रविवार को हाइड्रोजन बम का परीक्षण किया था. उसने इसे छठा और सबसे शक्तिशाली परमाणु परीक्षण बताया था. यह बम लंबी दूरी की मिसाइल के लिए डिजाइन किया गया है और इसे पूरी तरह से सफल बताया गया है. उत्तर कोरिया के इस परीक्षण पर दुनिया भर के देशों ने उसकी निंदा की है. अमेरिका ने उत्तर कोरिया पर सख्त प्रतिबंध लगाने की बात कही है.

हेली ने कहा कि उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन की कार्रवाई को रक्षात्मक नहीं माना जा सकता. जबकि वह इसके जरिए एक परमाणु शक्ति के रूप मे मान्यता चाहता है.

हेली ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में उत्तर कोरिया पर एक बैठक के दौरान कहा, ‘परमाणु शक्तियां अपनी जिम्मेदारियों को समझती है लेकिन किम जोंग उन ने ऐसी कोई समझदारी नहीं दिखाई है.’ भारतीय मूल की निकी हेली ने कहा कि उत्तर कोरिया के मिसाइलों के दुरूपयोग और इसकी परमाणु धमकियों से जाहिर होता है कि यह युद्ध छेड़ने को आतुर है.

उन्होंने कहा, ‘अमेरिका युद्ध जैसी कोई चीज नहीं चाहता. हम अभी यह नहीं चाहते लेकिन हमारे देश का धैर्य सीमित नहीं है. हम अपने सहयोगियों और अपने क्षेत्र की हिफाजत करेंगे.’ हेली ने कहा कि जब एक दुष्ट शासन के पास परमाणु हथियार और अंतर महाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल (आईसीबीएम) हो तब अपनी सुरक्षा को कम करने के लिए कदम नहीं उठा सकते.

Nikki Haley

हेली ने कहा, ‘सिर्फ सख्त प्रतिबंध ही हमें इस समस्या को कूटनीति के जरिए हल करने में सक्षम बनाएगा. इसके अलावा कोई और रास्ता नहीं बचा है.’ उत्तर कोरिया के ताजा परमाणु परीक्षण के बाद हेली से जापान, फ्रांस, ब्रिटेन और दक्षिण कोरिया से उनके समकक्ष राजदूतों ने इमरजेंसी मीटिंग बुलाने का अनुरोध किया था.

उत्तर कोरिया ने बहुत खतरनाक और अस्थिर हालात पैदा किया 

संयुक्त राष्ट्र में नियुक्त ब्रिटेन के राजदूत मैथ्यू रायक्रोफ्ट ने कहा कि उत्तर कोरिया ने बहुत ही खतरनाक और अस्थिर हालात पैदा कर दिए हैं.

जापान के राजदूत कोरो बेशो ने कहा कि यह स्पष्ट है कि उत्तर कोरिया की हरकत कितनी खतरनाक है. न सिर्फ उसके पड़ोसी देशों के लिए बल्कि समूचे अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए.

चीनी राजदूत लीयु चेयी ने उत्तर कोरिया से अंतराष्ट्रीय उपायों का पालन करने को कहा. उन्होंने कहा कि कोरियाई प्रायद्वीप में स्थिति बदतर हो गई है और चीन युद्ध नहीं छिड़ने देगा.

हेली ने 15 सदस्यों वाले सुरक्षा परिषद से कहा कि अमेरिका जल्दी ही एक मसौदा प्रस्ताव मुहैया करायेगा. इसके सोमवार 11 सितंबर तक पारित होने की उम्मीद है.

दक्षिण कोरियाई राजदूत चो ताई युल ने कहा कि सुरक्षा परिषद को एक नए सख्त प्रस्ताव के जरिए अवश्य ही जवाब देना चाहिए. अब इस पर सख्त कदम उठाने का वक्त आ गया है ताकि उत्तर कोरिया को वार्ता में गंभीर रूप से शामिल करने के लिए मजबूर किया जा सके.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi