S M L

पाक ने जारी किया नया वीडियो, कुलभूषण जाधव ने कहा- शुक्रिया

पाकिस्तान ने कुलभूषण का एक नया वीडियो जारी किया है. वीडियो में जाधव परिवार से मिलवाने के लिए पाकिस्तान का शुक्रिया अदा करते दिख रहे हैं

Updated On: Dec 26, 2017 09:45 AM IST

FP Staff

0
पाक ने जारी किया नया वीडियो, कुलभूषण जाधव ने कहा- शुक्रिया

पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव की क्रिसमस के मौके पर अपनी मां और पत्नी से मुलाकात हुई. इसके बाद पाकिस्तान ने कुलभूषण का एक नया वीडियो जारी किया है. वीडियो में जाधव परिवार से मिलवाने के लिए पाकिस्तान का शुक्रिया अदा करते दिख रहे हैं.

वीडियो में कुलभूषण द्वारा उन्हें भारत का कमांडर बताया जा रहा है. हालांकि, जानकारी के मुताबिक, इस वीडियो की रिकॉर्डिंग इस मुलाकात से पहले ही कर ली गई थी. सोमवार को पाकिस्तान ने शीशे की दीवार के बीच कुलभूषण जाधव और उनके परिवार की मुलाकात कराई. उनकी इंटरकॉम के जरिए बात कराई गई.

40 मिनट की रही मुलाकात

जाधव की मां अवंती और पत्नी सोमवार को ही पाकिस्तान पहुंचीं और जाधव से मिलने के लिए सीधे विदेश मंत्रालय के दफ्तर गईं. भारतीय उप उच्चायुक्त जेपी सिंह की मौजूदगी में दोपहर 1 बजकर 48 मिनट पर यह मुलाकात शुरू हुई. पाकिस्तान ने मुलाकात के लिए 30 मिनट का वक्त निर्धारित किया था, जिसे जाधव की गुज़ारिश पर 10 मिनट के लिए बढ़ाया गया. पाकिस्तान ने जाधव से मिलने पहुंची उनकी मां और पत्नी के कपड़े बदलवाकर उनकी मुलाकात जाधव से करवाई. इतना ही नहीं पाकिस्तान ने दोनों के गहने यहां तक की बिंदी भी निकलवा ली.

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने इस मुलाकात के बाद प्रेस ब्रीफिंग भी ली. उन्होंने कहा कि यह मुलाकात पूरी तरह से मानवीय आधार पर करवाई गई है. उन्होंने आश्वासन दिया कि जाधव से उनके परिवार की यह आखिरी मुलाकात नहीं है.

पाकिस्तान ने राजनयिक मदद से किया इनकार

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा कि यह राजनयिक मदद नहीं है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के पास काउंसलर एक्सेस की रिक्वेस्ट है. लेकिन अभी जांच जारी है इसलिए जाधव को काउंसलर एक्सेस अभी तक नहीं दिया गया है. उन्होंने कहा, 'हमने भारतीय हाई कमिश्नर को बता दिया था कि वह मुलाकात के दौरान वहां मौजूद रहेंगे, जाधव की उनकी पत्नी और मां से मुलाकात को देख सकेंगे लेकिन वह जाधव से मिल नहीं सकेंगे और ऐसा ही हुआ.'

पूर्व नौसेना अधिकारी से व्यापारी बने जाधव को 3 मार्च 2016 को गिरफ्तार किया गया था. उन्हें आतंकवाद व जासूसी के आरोप में पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने फांसी की सजा सुनाई है. इस सजा पर अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने रोक लगाई हुई है.

भारत का कहना है कि जाधव बेगुनाह हैं और उन्हें ईरान से अपहरण किया गया है. जाधव नौसेना से सेवानिवृत्त होने के बाद व्यापार के लिए ईरान गए थे. मौत की सजा सुनाए जाने के बावजूद पाकिस्तान ने बीते हफ्ते कहा कि उन्हें तत्काल फांसी का कोई खतरा नहीं है क्योंकि उनकी दया याचिका अभी लंबित है.

(साभार- न्यूज18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi