S M L

काठमांडू प्लेन क्रैश: केबिन में ही स्मोकिंग कर रहा था पायलट, इसलिए हुआ हादसा

इस मामले का खुलासा फ्लाइट के कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर से हुआ. कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर से ही अधिकारियों को पता चला की फ्लाइट के पायलट ने अपने केबिन में ही स्मोकिंग की थी

Updated On: Jan 28, 2019 10:39 AM IST

FP Staff

0
काठमांडू प्लेन क्रैश: केबिन में ही स्मोकिंग कर रहा था पायलट, इसलिए हुआ हादसा

पिछले साल नेपाल की राजधानी काठमांडू में बड़ा विमान हादसा हुआ था. इस हादसे में यूएस बांगला एयरलाइंस का विमान दुर्घटना का शिकार हो गया था. ये हादसा पिछले साल मार्च में हुआ था. हालांकि अब इस हादसे से जुड़ा एक बड़ा खुलासा हुआ है. न्यूज 18 के मुताबिक ये हादसा इसलिए हुआ क्योंकि प्लेन का पायलट अपने केबिन में स्मोकिंग कर रहा था. इस बात की पुष्टी अधिकारियों ने की है.

इस मामले का खुलासा फ्लाइट के कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर से हुआ. कॉकपिट वॉइस रिकॉर्डर से ही अधिकारियों को पता चला की फ्लाइट के पायलट ने अपने केबिन में ही स्मोकिंग की थी.

दरअसल हादसे के बाद संबंधित विभाग और अधिकारियों को इस बारे में संदेह था कि क्या वाकई सुरक्षा उल्लंघन के कारण फ्लाइट हादसे शिकार हुई थी? ऐसे में इस बात की पुष्टि करने के लिए और दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के लिए एक दुर्घटना जांच आयोग का गठन किया गया था. हालांकि अब दुर्घटना जांच आयोग का कहना है कि ये हादसा केवल क्रू की गलती के कारण ही हुआ था. अगर क्रू लापरवाही नहीं बरतता तो ये हादसा नहीं होता.

काठमांडू में ये हादसा 12 मार्च 2018 को हुआ था, जिसमें करीब 51 लोगों की मौत हो गई थी. इन 51 लोगों में क्रू के चार सदस्य भी शामिल थे. फ्लाइट ने बांगलादेश के ढाका से उड़ान भरी थी. फिर जैसे ही प्लेन काठमांडू के त्रिभुवन इंटरनेशनल एयरपोर्ट में पहुंचा तो रनवे से बाहर चला गया और एक फुटबॉल ग्राउंड में क्रैश हो गया. इसके बाद प्लेन में आग भी लग गई थी. जांच रिपोर्ट में त्रिभुवन एयरपोर्ट के कंट्रोल टावर को भी जिम्मेदार ठहराया गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi