S M L

शरीफ की पार्टी ने इमरान पर फर्जी दस्तावेज सौंपने का आरोप लगाया

शरीफ़ पर प्रधानमंत्री रहने के दौरान मनीलॉड्रिंग के जरिए लंदन में संपत्ति बनाने का आरोप था

Updated On: Jul 31, 2017 09:13 PM IST

Bhasha

0
शरीफ की पार्टी ने इमरान पर फर्जी दस्तावेज सौंपने का आरोप लगाया

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद प्रधानमंत्री पद से बेदखल होने वाले नवाज शरीफ की पार्टी ने आज विपक्षी नेता इमरान खान पर आरोप लगाया है कि उन्होंने विदेश से चंदा मामले में देश की शीर्ष अदालत में फर्जी दस्तावेज सौंपे हैं.

पनामागेट मामले में आए फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ को पीएम पद से बर्खास्त कर दिया. पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट ने नवाज़ शरीफ़ को मामले में दोषी करार देते हुए यह फैसला सुनाया. शरीफ़ पर प्रधानमंत्री रहने के दौरान मनीलॉड्रिंग के जरिए लंदन में संपत्ति बनाने का आरोप था. इसका खुलासा 2016 में पनामा पेपर लीक में हुआ था.

पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज पीएमएल एन) के नेता आसिफ किरमानी ने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के प्रमुख इमरान पर निशाना साधते हुए कहा, 'इमरान खान ने एक बार कहा कि वह कभी शेख रशीद की तरह नेता नहीं बनना चाहेंगे. अब उन्होंने उसी आदमी को प्रधानमंत्री नामित कर दिया है.'

किरमानी की टिप्पणी उस वक्त आई है जब एक दिन पहले इमरान ने अपनी पार्टी की एक रैली में कहा था, 'अगर न्यायपालिका के समक्ष मेरे बयान का एक वाक्य भी गलत साबित हुआ तो मैं पार्टी से इस्तीफा दे दूंगा.' तहरीक-ए-इंसाफ की कल की रैली को 'म्यूजिकल नाइट' करार देते हुए किरमानी ने कहा कि इमरान ने कायदे-ए-आजम के पाकिस्तान को बर्बादी के मुहाने पर ला दिया है.

उन्होंने कहा, 'तहरीक-ए-इंसाफ एक जालसाज पार्टी है. इसके नेता को फर्जी दस्तावेज सौंपने में कोई शर्मिंदगी नहीं है. यह बेशर्मी की इंतहा है.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi