S M L

कायर हैं परवेज मुशर्रफ, न्यायपालिका उन्हें वापस लाएः शरीफ

FP Staff Updated On: Dec 29, 2017 08:06 PM IST

0
कायर हैं परवेज मुशर्रफ, न्यायपालिका उन्हें वापस लाएः शरीफ

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने पूर्व सैन्य तानाशाह परवेज मुशर्रफ को बड़ा कायर बताया. शरीफ ने न्यायपालिका से अपील किया कि मुशर्रफ को आत्मसमर्पण कर देश वापस लाया जाए और उनके अपराधों के लिए जवाबदेह बनाया जाए.

मुशर्रफ पाकिस्तान में नवंबर 2007 में आपातकाल लागू करने, न्यायाधीशों को गिरफ्तार करने और उनकी शक्तियों को सीमित करने के लिए पाकिस्तान में देशद्रोह के आरोपों का सामना कर रहे हैं. अगर वो इन मामलों में दोषी ठहराए जाते हैं तो उन्हें मृत्युदंड का सामना करना पड़ सकता है.

इलाज के बहाने दुबई में रह रहे हैं मुशर्रफ

1999 में रक्तहीन तख्तापलट कर सत्ता हासिल करने वाले मुशर्रफ पिछले साल से दुबई में रह रहे हैं. इलाज कराने के लिए उनको पाकिस्तान से बाहर जाने की इजाजत दी गई थी. शरीफ ने मुशर्रफ को बड़ा कायर कहते हुए कहा कि उन्हें न्याय के लिए लाया जाना चाहिए.

शरीफ ने कहा कि मुशर्रफ एक बड़ा कायर है जो विदेशों में छुपे हए हैं. अगर उनमें साहस है तो वापस लौटना चाहिए और अपने खिलाफ लगे केस का सामना करना चाहिए. शरीफ ने कहा कि मुशर्रफ ने संविधान को निरस्त कर दिया था और उन्हें इसके लिए दंडित किया जाना चाहिए.

इस देशद्रोही को न्याय के लिए जल्द लाएंगे वापसः शरीफ

शरीफ ने बचन देते हुए कहा कि हम इस देशद्रोही को जल्द न्याय के लिए वापस लाएंगे. न्यायपालिका से मांग करते हुए उन्होंने कहा कि उनके पापों के लिए जवाबदेह बनाने के लिए वापस लाना चाहिए.

शरीफ ने कहा कि यह कायर मनुष्य विदेश में रहने के लिए अपनी बुरी स्वास्थ्य के बहाने बना रहा है. न्याय के लिए ऐसे धोखेबाज को लाने का समय अब दूर नहीं है.

मुशर्रफ ने नवाज शरीफ को सत्ता से बेदखल कर 1999 से 2008 तक सरकार चलाया. शरीफ दोबारा 2013 में सत्ता में वापस आए और मुशर्रफ के खिलाफ कई केस को खोला. 2016 में पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट ने मुशर्रफ को मेडिकल के आधार पर बाहर इलाज कराने का इजाजत दिया. जिसके बाद वो दुबई में हैं.

बिलावल भुट्टो ने लगाया था मुशर्रफ पर मां की हत्या का आरोप

शरीफ का यह बयान पाकिस्तान पिपुल्स पार्टी के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो के बयान के एक दिन बाद आया है. बिलावल भुट्टो ने आरोप लगाया था कि मुशर्रफ ने ही उनकी मां बेनजीर भुट्टो की हत्या कराई थी. बिलावल ने कहा था कि मेरी मां तानाशाही के खिलाफ लड़ने की सजा पाईं और मुशर्रफ ने उन्हें मरवा दिया.

बिलावल ने कहा कि परवेज मुशर्रफ ने सीधे तौर पर मेरी मां को धमकी दी कि पाकिस्तान लौटने पर उनकी सुरक्षा की गारंटी सरकार के साथ भुट्टो के सहयोग पर निर्भर है. मैं व्यक्तिगत तौर पर परवेज मुशर्रफ को अपनी मां की हत्या के लिए जिम्मेदार मानता हूं.

हालांकि, मुशर्रफ ने बिलावल के इस आरोप को खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि उनकी हत्या में कुछ असामाजिक तत्व शामिल हो सकते हैं.

पाकिस्तान पिपुल्स पार्टी की अध्यक्ष और दो बार प्रधानमंत्री रहीं बेनजीर भुट्टो को 27 दिसंबर 2007 को रावलपिंडी के लियाकत बाग में एक चुनाव सभा के दौरान मार दिया गया था. इसमें 20 अन्य लोग भी मरे थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi