S M L

नसीरूल मुल्क बने पाकिस्तान के कामचलाऊ सरकार के प्रधानमंत्री

यह आम चुनाव पाकिस्तान में दूसरे लोकतांत्रिक सत्ता के बदलाव का गवाह बनेगा. जहां 70 साल के स्वतंत्रता के इतिहास में अधितर समय तक सेना का शासन रहा है

Updated On: Jun 01, 2018 05:14 PM IST

Bhasha

0
नसीरूल मुल्क बने पाकिस्तान के कामचलाऊ सरकार के प्रधानमंत्री

पाकिस्तान के पूर्व मुख्य न्यायाधीश नसीरूल मुल्क को देश के सातवें कामचलाऊ प्रधानमंत्री के रूप में शपथ दिलाई गई है. जो 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव तक इस पद पर बने रहेंगे. यह आम चुनाव पाकिस्तान में दूसरे लोकतांत्रिक सत्ता के बदलाव का गवाह बनेगा. जहां 70 साल के स्वतंत्रता के इतिहास में अधिकतर समय तक ताकतवर सेना का शासन रहा है.

पाक राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने 67 वर्षीय नसीरूल मुल्क को प्रधानमंत्री के पद की शपथ दिलाई. मालूम हो नसीरूल मुल्क को सरकार और विपक्ष दोनों ने सर्वसम्मति से इस पद के लिए चुना था.

'डॉन' न्यूज की खबर के मुताबिक पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खकान अब्बासी ने नसीरूल मुल्क को ऐसा व्यक्ति बताया जिनकी नियुक्ति पर किसी को आपत्ति नहीं होगी.

पिछले सप्ताह विपक्ष के नेता खुर्शीद शाह ने एक संवाददाता सम्मेलन में इसकी घोषणा की थी. जिसमें अब्बासी और राष्ट्रीय सभा के स्पीकर अयाज सादिक भी मौजूद थे.

आपको बता दें कि मौजूदा सरकार 31 मई को अपना कार्यकाल पूरा कर चुकी है और नई सरकार के चुने जाने तक कामचलाउ सरकार ही कार्यभार संभालेगी। लेकिन यह सरकार कोई भी बड़ा फैसला नहीं लेगी.

नेशनल एसेंबली के पांच साल के लगातार तीसरे कार्यकाल के पूरा होने के कुछ देर बाद ही शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया गया. हालांकि यह दूसरी नेशनल एसेंबली होगी जो असैन्य शासन के तहत अपना कार्यकाल पूरा कर‍ेगी क्योंकि तीन में से एक 2002 में अस्तित्व में आई थी वह पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ के तहत काम करती रही थी.

जस्टिस नसीरूल मुल्क उन सात न्यायधीशों में से एक थे जिन्होंने तीन नवंबर, 2007 को एक निरोधक आदेश पर हस्ताक्षर किए थे. जब मुशर्रफ ने आपातकाल लगा दिया था और न्यायधीशों को जबरन घर भेज दिया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi