विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

एक खरब टन का आइसबर्ग टूटा, बदल जाएगी अंटार्कटिका की सूरत

7 न्यूयॉर्क शहरों के बराबर का बर्फ की चट्टान टूट गई है.

FP Staff Updated On: Jul 13, 2017 01:05 PM IST

0
एक खरब टन का आइसबर्ग टूटा, बदल जाएगी अंटार्कटिका की सूरत

अंटार्कटिका में लगभग एक खरब टन का आइसबर्ग टूट गया है. घटना की जानकारी वैज्ञानिकों ने बुधवार को दी. इस आइसबर्ग का आकार लगभग 7 न्यूयॉर्क शहरों के बराबर है. इस चट्टान के टूटने के बाद अंटार्कटिका की सूरत बदल जाएगी.

वैज्ञानिक कई महीनों से इस हिमशैल के टूटने का पूर्वानुमान लगा रहे थे. यह आइसबर्ग अब तक के दर्ज आंकड़ों में सबसे बड़ा है. अब यह दक्षिणी ध्रुव के आसपास जहाजों के लिए गंभीर खतरा बन सकता है.

ये अंटार्कटिका के उत्तर-पूर्वी किनारे की लार्सन चट्टान का हिस्सा था. लार्सन सी बर्फ की चट्टान से 5800 वर्ग किलोमीटर का हिस्सा अलग हो जाने से इसका आकार 12 फीसदी से ज्यादा घट गया है और अंटार्कटिक प्रायद्वीप का परिदृश्य हमेशा के लिए बदल गया है.

इसके पहले लार्सन ए और लार्सन बी भी लार्सन बर्फ की चट्टान से अलग हो चुके हैं. अब इस बर्फ की चट्टान के टूटने के बाद लार्सन कमजोर हो सकती है. लार्सन सी का टूटना तेजी से गर्म हो रही धरती के लिए एक और खतरे की घंटी साबित हो सकती है.

अंटार्कटिका से हमेशा हिमशैल अलग होते रहते हैं, लेकिन यह क्योंकि खास तौर पर बड़ा है, ऐसे में महासागर में जाने के इसके रास्ते पर निगरानी की जरूरत है. ये इलाके में मौजूद जहाजों के लिए मुश्किलें पैदा कर सकता है.

सालों से पश्चिमी अंटार्कटिक हिम चट्टान में बढ़ती दरार को देख रहे शोधकर्ताओं ने कहा कि यह घटना 10 जुलाई से लेकर 12 जुलाई के बीच किसी समय हुई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi