S M L

कंबोडिया नरसंहार मामले में खमेर रूज नेता दोषी करार

जिन नेताओं के खिलाफ फैसला आया है वह हैं रूज शासन के प्रमुख रह चुके ही सेम्फान (87) और नुओन चिआ (92)

Updated On: Nov 16, 2018 05:47 PM IST

Bhasha

0
कंबोडिया नरसंहार मामले में खमेर रूज नेता दोषी करार

कंबोडिया की एक कोर्ट ने दशकों पुराने नरसंहार के मामले में खमेर रूज शासन के दो शीर्ष नेताओं को शुक्रवार को दोषी ठहराया. बर्बर शासन लगभग 40 साल पहले खत्म हो गया था.

जिन नेताओं के खिलाफ फैसला आया है वह हैं रूज शासन के प्रमुख रह चुके ही सेम्फान (87) और नुओन चिआ (92).

इस कट्टर माओवादी ग्रुप ने 1975 से 1979 के बीच कंबोडिया का नियंत्रण अपने हाथों में ले लिया था. वह दोनों इस समूह के सबसे उम्रदराज नेता हैं. इस शासनकाल के दौरान ज्यादा काम, भुखमरी और बड़े पैमाने पर लोगों को फांसी देने के चलते करीब 20 लाख लोगों की मौत हो गई थी.

इससे पहले दोनों नेताओं को साल 2014 में उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी. शुक्रवार को भी दोनों को उम्रकैद की सजा सुनाई गई. उनकी दोनों ही सजा साथ-साथ चलेगी.

जस्टिस निल नून ने शुक्रवार को खमेर रूज शासनकाल के पीड़ितों के सामने अपना पूरा फैसला पढ़ा. खमेर रूज के शासनकाल में हुई हत्याओं को 20वीं सदी के सबसे बड़े नरसंहारों में गिना जाता है.

आयोग की मानें तो कंबोडिया में बंदूक की नोक पर शासन चलाने वाले संगठन खमेर रूज के शासनकाल में वियतनामी मूल के चाम मुसलमानों की चुन-चुनकर हत्या की गई थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi