S M L

कैलाश मानसरोवर यात्रा: फंसे यात्रियों में से 342 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया

खराब मौसम के कारण जिले से आने-जाने वाली विमानें बाधित हो गई थीं और करीबन 1000 भारतीय नेपाल के पहाड़ी क्षेत्रों में फंसे गए थे

Updated On: Jul 06, 2018 04:09 PM IST

FP Staff

0
कैलाश मानसरोवर यात्रा: फंसे यात्रियों में से 342 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया

कैलाश मानसरोवर यात्रा से लौटने के दौरान हुमला में अपने फ्लाइट का इंतजार कर रहे भारतीय तीर्थयात्रियों में से 342 यात्रियों नेपाल सरकार ने सुरक्षित जगह पर पहुंचा दिया है.

बता दें कि खराब मौसम के कारण जिले से आने-जाने वाली विमानें बाधित हो गई थीं और करीबन 1000 भारतीय नेपाल के पहाड़ी क्षेत्रों में फंसे गए थे. इनमें से 437 यात्री सीमीकोट में फंसे हुए थे जबकि 250 तीर्थयात्री हिलसा में. इन यात्रियों में से 277 लोगों को गुरुवार के दिन ही हिलसा से सीमीकोट लाया गया था. बाद में इन सभी को नेपालजंग और सुरखेत पहुंचाया गया.

शुक्रवार को भी करीब 342 यात्रियों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है. यात्रियों को तीर्थयात्रियों सीमीकोट से नेपालजंग और सुरखेत लाने के लिए नेपाल सरकार ने 21 फ्लाइट और दो प्राइवेट चॉपर्स का इंतजाम किया था. जिसके बाद अब लगभग सभी यात्रियों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जा चुका है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi