S M L

लाहौर में योग और प्राणायाम करते दिखे मुसलमान, पाक मीडिया में आई तस्वीर

पाकिस्तान से यह तस्वीर तब जारी हुई है जब हिंदुस्तान में मुसलमानों को योग के खिलाफ आवाज बुलंद करते देखा जाता है

FP Staff Updated On: Jun 22, 2018 03:47 PM IST

0
लाहौर में योग और प्राणायाम करते दिखे मुसलमान, पाक मीडिया में आई तस्वीर

पाकिस्तान के प्रतिष्ठित अखबार डॉन ने लाहौर से एक तस्वीर जारी की है जिसमें कई मुसलमानों को एक पार्क में योग करते दिखाया गया है.

डॉन के ई-पेपर में छपी इस तस्वीर में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2018 पर लाहौर के शालीमार गार्डन में बुधवार सुबह योग और प्राणायाम करते मुसलमानों को दिखाया गया है.

'डॉन' के ई-पेपर से साभार

पाकिस्तान से यह तस्वीर तब जारी हुई है जब हिंदुस्तान में मुसलमानों को योग के खिलाफ आवाज बुलंद करते देखा जाता है. इतना ही नहीं, दुनिया के और भी कई देश हैं जो योग को हिंदू और बौद्ध मान्यताओं से जोड़ कर देखते हैं.

बीबीसी वर्ल्ड सर्विस के विलियम क्रीमर की एक रिपोर्ट की मानें तो दुनिया भर में कई मुस्लिम, ईसाई और यहूदी लोग योग को लेकर कई प्रकार के संदेह जाहिर करते हैं. ये लोग योग को हिंदू और बौद्ध धर्म से जुड़ी मान्यता मानते हैं और इसे साधना के रूप में लेते हैं. क्रीमर ने बताया है कि कैसे 2012 में ब्रिटेन में एक चर्च ने एक योग क्लास पर बैन लगा दिया था. क्रीमर की इस रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका के पादरी जॉन शैंडलर योग को 'शैतानी' बता चुके हैं.

पाकिस्तानी अखबार डॉन ने 21 जून गुरुवार को एएफपी के हवाले से छापी एक खबर में बताया है कि हिंदुस्तान के मुसलमान भी योग के खिलाफ गाहे-बगाहे अपनी आवाज बुलंद करते दिखते हैं. डॉन ने भारत सरकार के आयुष मंत्रालय का भी जिक्र किया है जो देश-दुनिया में योग दिवस का आयोजन करता है.

आयुष मंत्रालय की ओर से जारी निर्देश के मुताबिक योग क्रिया के दौरान ओम और हिंदू वैदिक मंत्रों, श्लोकों का उच्चारण होना चाहिए. मुसलमान ओम और मंत्रों, श्लोकों के उच्चारण की खिलाफत करते रहे हैं. उनका मानना है कि ऐसे उच्चारण मुस्लिम मजहब के खिलाफ हैं और वे भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की ओर से एक खास विचार थोपने का आरोप लगाते हैं.

उधर, गुरुवार को पूरी तैयारी के साथ अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड के देहरादून में खुद इस आयोजन की कमान संभाली. इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तराखंड पिछले कई दशकों से योग का केंद्र रहा है. हम भारतीयों के लिए गौरव की बात है कि पूरी दुनिया में योग का पर्व मनाया जा रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि योग व्यक्ति-परिवार-समाज-देश-विश्व और पूरी मानवता को जोड़ता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi