S M L

कंसास में भारतीय इंजीनियर की हत्या मामले में पूर्व अमेरिकी नौसैनिक को उम्रकैद की सजा

पिछले साल 22 फरवरी को ओलाथे शहर के ‘ऑस्टिंस बार एंड ग्रिल’ में प्यूरिंटन ने ‘मेरे देश से निकल जाओ’ चिल्लाते हुए यह हमला किया था

Bhasha Updated On: May 05, 2018 12:39 PM IST

0
कंसास में भारतीय इंजीनियर की हत्या मामले में पूर्व अमेरिकी नौसैनिक को उम्रकैद की सजा

कंसास की एक अदालत ने भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचिभोटला की गोली मारकर हत्या करने वाले पूर्व अमेरिकी नौसेनिक को उम्र कैद की सजा सुनाई है. कुचिभोटला पर नस्ली हमला कर उनकी हत्या कर दी गई थी.

‘केएसएचबी’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक कंसास के फेडेरल जज ने एडम प्यूरिंटन को यह सजा सुनाई. प्यूरिंटन फिलहाल जेल में है. फैसला सुनाए जाने के बाद प्यूरिंटन अब 100 साल की उम्र तक पैरोल नहीं मांग सकता. उसे मार्च में कुचिभोटला की हत्या का दोषी ठहराया गया था.

प्यूरिंटन पर कुचिभोटला की हत्या और उसके दोस्त आलोक मदसानी पर जानलेवा हमले की कोशिश का आरोप था. पिछले साल 22 फरवरी को ओलाथे शहर के ‘ऑस्टिंस बार एंड ग्रिल’ में प्यूरिंटन ने ‘मेरे देश से निकल जाओ’ चिल्लाते हुए यह हमला किया था.

कुचिभोटला की पत्नी सुनयना दुमाला ने अदालत के फैसले का स्वागत किया. सुनयना ने कहा, ‘‘यह फैसला मेरे श्रीनू (पति का नाम) को वापस नहीं लाएगा लेकिन इससे एक कड़ा संदेश जाएगा कि ऐसे नस्लीय हमलों को मंजूर नहीं किया जाएगा.’ उन्होंने कहा, ‘मैं इस शख्स को सजा दिलाने के लिए जिला अटॉर्नी कार्यालय और ओलाथे पुलिस का शुक्रिया अदा करना चाहती हूं.’

कुचिभोटला हैदराबाद के रहने वाले थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi