S M L

भारत ने बांग्लादेश में रोहिंग्या शरणार्थियों के लिए भेजी राहत सामग्री

नई दिल्ली में बांग्लादेश के उच्चायुक्त सैयद मुआज्जम अली ने पिछले हफ्ते विदेश सचिव एस जयशंकर से मुलाकात कर रोहिंग्याओं के मुद्दे पर विस्तार से चर्चा की थी जिसके बाद यह मदद की गई.

Updated On: Sep 14, 2017 06:23 PM IST

Bhasha

0
भारत ने बांग्लादेश में रोहिंग्या शरणार्थियों के लिए भेजी राहत सामग्री

भारत ने बांग्लादेश में म्यांमार से आए रोहिंग्या मुस्लिम शरणार्थियों के लिए गुरुवार को 53 टन राहत सामग्री भेजी. पड़ोसी बौद्ध बहुल देश म्यांमार में जातीय हिंसा के बाद रोहिंग्या मुस्लिम बड़ी तादाद में बांग्लादेश आ गए थे.

बांग्लादेश ने बड़ी तादाद में शरणार्थियों के आने से वहां उपजी मुश्किलों के बारे में भारत को सूचित किया था, जिसके कुछ दिन बाद भारत की ओर से सहायता की यह पहली खेप पहुंची है.

नई दिल्ली में बांग्लादेश के उच्चायुक्त सैयद मुआज्जम अली ने पिछले हफ्ते विदेश सचिव एस जयशंकर से मुलाकात कर रोहिंग्याओं के मुद्दे पर विस्तार से चर्चा की थी.

नई दिल्ली में विदेश मंत्रालय के एक बयान में कहा गया, ‘बांग्लादेश में बड़ी तादाद में आ रहे शरणार्थियों के चलते उपजे मानवीय संकट के जवाब में भारत सरकार ने बांग्लादेश की सहायता करने का फैसला किया है.’ इसमें कहा गया कि राहत सामग्री में प्रभावित लोगों के लिए तुरंत आवश्यक सामग्री जैसे कि चावल, दाल, चीनी, नमक, खाद्य तेल, चाय, नूडल्स, बिस्कुट, मच्छरदानी इत्यादि शामिल हैं.

दूतावास ने ट्वीट किया, ‘भारत ने ‘ऑपरेशन इंसानियत: हाई कमिशन’ के तहत बांग्लादेश को मानवीय सहायता की पहली खेप सौंपी.’ इसके अनुसार, ‘बांग्लादेशी के लिए 53 मीट्रिक टन भारतीय मानवीय सहायता की पहली खेप #ऑपरेशन इंसानियत के तहत बांग्लादेश पहुंची.’ भारत बांग्लादेश को 7,000 टन राहत सामग्री उपलब्ध कराएगा.

सहायता सामग्री लेकर आए भारतीय विमान के दक्षिण-पूर्व बंदरगाह शहर चटगांव में उतरने पर बांग्लादेश के सड़क परिवहन मंत्री ओबैदुल कादर ने भारतीय उच्चायुक्त हर्ष वर्धन सिंघल से सामग्री प्राप्त की.

दूतावास ने कहा कि कादर ने इस सहायता की तुलना साल 1971 के मुक्ति संग्राम के दौरान भारत की ओर से बांग्लादेश को उपलब्ध कराई गई सहायता से की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi