S M L

इस 'भुतहा बच्ची' की आवाज से महीनों से डरे हुए थे लोग, अब सामने आया 'भूत'

इंग्लैंड के इस शहर में महीनों से लोग एक बच्ची की आवाज से डरे हुए थे. नर्सरी की कविताएं गाने वाली ये आवाज अकसर रात में पूरे टाउन में गूंजने लगती थी

Updated On: Sep 19, 2018 05:14 PM IST

FP Staff

0
इस 'भुतहा बच्ची' की आवाज से महीनों से डरे हुए थे लोग, अब सामने आया 'भूत'

कल्पना करिए, आप समंदर किनारे बसे कम आबादी के एक छोटे से कस्बे में रहते हैं और अचानक से रोज रात में एक बच्ची की गाना गाने की डरावनी सी आवाजें फ़िज़ा में गूंजने लगे तो आप क्या करेंगे? आपको डर लगेगा? जरूर लगेगा.

इंग्लैंड के छोटे शहर इप्सविच में महीनों से लोग एक बच्ची की आवाज से डरे हुए थे. नर्सरी की कविताएं गाने वाली ये आवाज अकसर रात में पूरे टाउन में गूंजने लगती थी. 'इट्स रेनिंग, इट्स पोरिंग; द ओल्ड मैन इज स्नोरिंग' लाइनों की इस कविता ने इस शहर को भुतहा बना रखा था. अब असली भूत का पता चल गया है.

इप्सविच में पिछले कुछ वक्त दिन-रात के किसी भी वक्त अचानक से एक बच्ची की नर्सरी की कविताएं गाती हुई आवाज गूंज उठती थी. थी तो ये बच्ची की आवाज वो भी कविता गाती गाती हुई लेकिन सुनने में ऐसा लगता था, जिसे सुनकर नींद नहीं बुरे सपने आएं. कविता के बोल कुछ ऐसे थे-

'इट्स रेनिंग, इट्स पोरिंग,

द ओल्ड मैन इज स्नोरिंग,

ही बम्प्ड हिज हेड एंड वेन्ट टू बेड

एंड कुड नॉट वेक अप इन द मॉर्निंग'

आप ये साउंड यहां भी सुन सकते हैं और शर्त है कि ये वीडियो आपको डरावना लगेगा.

द इंडिपेंडेंट की खबर के मुताबिक, डर और असमंजस के साए में अपने दो बच्चों के साथ यहां रहने वाली एलिस कॉनिंग्टन ने आखिरकार अथॉरिटी तक ये बात पहुंचाई.

इसके बाद अधिकारियों ने उनसे कहा कि जब भी ये आवाज सुनाई दे तो वो उनको इसकी जानकारी दें. फिर आधी रात में ये आवाज बजने पर एलिस ने अधिकारियों को बुलाया. अधिकारियों ने आवाज की दिशा में जाकर चेक किया तो पता चला कि ये आवाज पास के एक इंडस्ट्रियल फैक्ट्री से आ रही थी.

जांच में पता चला कि ये कोई भुतहा बच्ची के गाने की आवाज नहीं, फैक्ट्री का अलार्म सिस्टम था और इसके बार-बार बजने के पीछे मकड़ियों का हाथ था. फैक्ट्री ने चोरी या सेंधमारों को चेतावनी देने के लिए ये अलार्म सिस्टम लगा रखा था. इस सिस्टम के पास मकड़ियों ने इसमें कुछ छेड़खानी कर दी थी, जिसके चलते ये जब-तब बजने लगता था.

बीबीसी को उस फैक्ट्री के प्रवक्ता ने बताया कि इस घटना के पीछे मकड़ियों का हाथ था और उसने ये भी बताया कि बच्ची की आवाज में बजने वाला ये अलार्म काफी सफल रहा था. हालांकि, फैक्ट्री ने ये नहीं बताया कि सामान्य अलार्म सिस्टम लगाने की बजाय एक नर्सरी की कविताएं गाती हुई बच्ची की भुतहा सी आवाज में अलार्म लगाने का आइडिया किसने दिया था, जो कि काफी अजीब है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi