S M L

चांद की यात्रा के आखिरी यात्री जीन सर्नन की 82 की उम्र में मृत्यु

जीन सर्नन नासा के अपोलो-17 मिशन के कमांडर थे.

Updated On: Jan 17, 2017 12:54 PM IST

FP Staff

0
चांद की यात्रा के आखिरी यात्री जीन सर्नन की 82 की उम्र में मृत्यु

चांद पर कदम रखने वाले अबतक के आखिरी अंतरिक्ष यात्री जीन सर्नन की 82 साल की उम्र में मृत्यु हो गई है. इसकी पुष्टि उनके परिवार ने की है.

सर्नन परिवार की प्रवक्ता मेलिसा रेन ने द एसोसिएटेड प्रेस को बताया कि सोमवार को सर्नन की ह्यूस्टन के एक हॉस्पिटल में मृत्यु हुई. वो सेहत की समस्याओं से जूझ रहे थे. इस वक्त उनके परिवार के सदस्य भी मौजूद थे.

यह भी पढ़ें: मोदी के ‘चंगुल में’ अफगानिस्तान, दुखी पाक मीडिया

1972, 14 दिसंबर को वो उन कुछ इंसानों में से एक बने जिन्हें चांद पर अपने कदमों के निशान बनाने का मौका मिला. जीन सर्नन नासा के अपोलो-17 मिशन के कमांडर थे.

नासा की ओर से छपे एक स्टेटमेंट में उनके परिवार ने बताया है कि 82 की उम्र में भी वो अंतरिक्ष से जुड़ी खबरों में दिलचस्पी रखते थे. उनकी बहुत इच्छा थी कि उनके इस दुनिया से जाने से पहले वो चांद पर जाने वाले आखिरी यात्रियों में से न रहें, वो चाहते थे कि देश और देश के युवा इस दिशा में उत्साह दिखाएं.

सीएनएन ने सर्नन को इस वीडियो के जरिए याद किया है:

सर्नन ने कहा था, ‘नील ( नील आर्मस्ट्रॉंन्ग की मृत्यु 2012 में हुई) और मैं युवा अमेरिकियों को चांद पर जाते नहीं देख पाएंगे.’

सर्नन ने 2011 में कहा था, मैं चाहता हूं कि जब मैं इस दुनिया से जाऊं, तो मैं जानना चाहूंगा कि एक राष्ट्र के रूप में हम किस दिशा में बढ़ रहे हैं. यही मेरा उद्देश्य है.’

यह भी पढ़ें: कौन फैला रहा है आतंकवाद, पाकिस्तान या भारत?

जीन सर्नन पर 'द लास्ट मैन ऑन द मून' नाम की डॉक्यूमेंट्री फिल्म भी बन चुकी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi