S M L

डोनाल्ड ट्रंप की मौजूदगी में फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने राष्ट्रवाद को लेकर की टिप्पणी

प्रथम विश्वयुद्ध के शांति विराम का जश्न मनाने के लिए पेरिस में एक समारोह का आयोजन किया गया.

Updated On: Nov 11, 2018 09:16 PM IST

FP Staff

0
डोनाल्ड ट्रंप की मौजूदगी में फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने राष्ट्रवाद को लेकर की टिप्पणी

प्रथम विश्वयुद्ध के शांति विराम का जश्न मनाने के लिए पेरिस में एक समारोह का आयोजन किया गया. जहां विश्व के कई बड़े नेताओं ने हिस्सा लिया. हालांकि इस समारोह में फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने अमेरिकी राष्ट्रपति की मौजूदगी में राष्ट्रवाद पर एक टिप्पणी भी कर डाली.

पहले विश्वयुद्ध की समाप्ति के 100 साल पूरे होने पर फ्रांस की राजधानी पेरिस के ऐतिहासिक आर्क दे त्रायोंफ में आयोजित इस कार्यक्रम में विश्वनेताओं का जमावड़ा लगा था. इस दौरान भारत की तरफ से उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू शामिल हुए तो वहीं फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भी इस कार्यक्रम में मौजूद रहे.

इस दौरान फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने कहा 'देशभक्ति राष्ट्रवाद का बिल्कुल विपरीत है: राष्ट्रवाद देशभक्ति का विश्वासघात है.' उन्होंने कहा कि हम अपने हित को सबसे आगे रखते हुए दूसरों के हितों को ध्यान में नहीं रख पाते हैं. एक राष्ट्र तभी सबसे मूल्यवान है जब वह अपने नैतिक मूल्यों को अपनाए रखता है. फ्रांसीसी राष्ट्रपति का कहना है कि ट्रंप ने अमेरिका के राष्ट्रपति बनने के बाद से ही 'अमेरिका फर्स्ट' की नीतियों को बढ़ावा दिया है और कांग्रेसी चुनावों में भाग लेने के बाद इस महीने खुद को 'राष्ट्रवादी' भी घोषित कर दिया.

हालांकि फिलहाल फ्रांसीसी राष्ट्रपति की टिप्पणी पर व्हाइट हाउस की तरफ से किसी प्रकार की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi