S M L

फ्रांस: इस्लामी रिसर्चर के कार्टून को लेकर ‘शार्ली हेब्दो’ को फिर धमकी

पत्रिका ने पिछले बुधवार के अंक में तारिक रमदान का एक कार्टून प्रकाशित किया है कि ‘मैं इस्लाम का छठा स्तंभ हूं’

Updated On: Nov 07, 2017 04:05 PM IST

Bhasha

0
फ्रांस: इस्लामी रिसर्चर के कार्टून को लेकर ‘शार्ली हेब्दो’ को फिर धमकी

फ्रांसीसी साप्ताहिक व्यंग्य पत्रिका ‘शार्ली हेब्दो’ का कहना है कि उसे फिर धमकी दी जा रही है. पत्रिका ने कहा कि बलात्कार के आरोपों का सामना कर रहे इस्लामी रिसर्चर (शोधार्थी) तारिक रमदान के कार्टून को लेकर उसके कर्मचारियों को एक बार फिर जान से मार डालने की धमकी मिली है.

‘शार्ली हेब्दो’ के कार्यालय पर वर्ष 2015 में पैगंबर मोहम्मद के कार्टून के प्रकाशन को लेकर जानलेवा जिहादी हमला हो चुका है.

पत्रिका ने पिछले बुधवार के अंक में रमदान का यह कहते हुए एक कार्टून प्रकाशित किया है कि ‘मैं इस्लाम का छठा स्तंभ हूं’. रमदान स्विस अकादमिक हैं, ऑक्सफोर्ड के प्रोफेसर हैं और फ्रांस में उनकी छवि रूढ़ीवादी इस्लामी बुद्धिजीवी की है. हॉलीवुड के फिल्म निर्माता हार्वे वेन्स्टेन के मामले के बाद सामने आ रहे यौन उत्पीड़न के आरोपों के बीच, दो महिलाओं ने रमदान पर रेप का आरोप लगाया है.

बहरहाल, 55 साल के रमदान ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा, ‘यह मेरे विरोधियों द्वारा चलाया गया झूठ का अभियान है’. पत्रिका ‘शार्ली हेब्दो’ के कवर पेज पर लाल अक्षरों में ‘बलात्कार’ लिखा है. उसके नीचे लिखा है ‘तारिक रमदान का बचाव.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi