S M L

जॉगिंग करते हुए पार किया बॉर्डर, खानी पड़ी जेल की हवा!

सेडेला रोमन नामक 19 साल की युवती कनाडा में अपनी मां के घर आई थी. 21 मई को जॉगिंग के दौरान गलती से वह कनाडा की सीमा पार कर अमेरिका की सीमा में पहुंच गई

FP Staff Updated On: Jun 24, 2018 03:35 PM IST

0
जॉगिंग करते हुए पार किया बॉर्डर, खानी पड़ी जेल की हवा!

अवैध रूप से जानबूझकर बॉर्डर पार करने संबंधी घटनाएं तो कई बार खबरों में आती रहती हैं लेकिन कई बार ऐसा होता है जब लोग अनजाने में एक देश से दूसरे देश में चले जाते हैं. और ऐसा करना उनपर भारी पड़ जाता है. कुछ ऐसा ही हुआ कनाडा में रह रही एक फ्रांस की युवती के साथ. उसे कनाडा में जॉगिंग करना महंगा पड़ गया. सेडेला रोमन नामक 19 साल की युवती कनाडा में अपनी मां के घर आई थी. 21 मई को जॉगिंग के दौरान गलती से वह कनाडा की सीमा पार कर अमेरिका की सीमा में पहुंच गई.

इस गलती की वजह से उसे दो सप्‍ताह तक संदिग्‍ध मानकर हिरासत में रखा गया और कई तरह की पूछताछ की गई. सेडेला को कनाडा और अमेरिका के बीच के आव्रजन संबंधी नियमों में उलझना पड़ा. सेडेला मां क्रिस्‍टीन फेर्न कनाडा के ब्रिटिश कोलंबिया राज्य में रहती है और इसकी सीमा अमेरिका के वाशिंगटन राज्य से लगी हुई है.

पिछले 21 मई को वह अकेले ही जॉगिंग के लिए निकली. एकाएक उसे समझ में आया कि वह एकदम सीमा पार कर चुकी है और वह अमेरिका में है. हालांकि वहां पर कोई चेतावनी बोर्ड नहीं लगा था. जब वह अमेरिका में दाखिल होने के बाद एक जगह सेल्‍फी लेने लगी तो उसने देखा कि बार्डर पर पेट्रोलिंग करने वाले एजेंट उसकी ओर बढ़ रहे थे.

पास में नहीं था कोई पेपर

सीमा पार करने पर उसे दो सप्‍ताह तक हिरासत में रखा गया. सेडेला ने कहा कि उसे नहीं लगा था कि ये इतनी बड़ी घटना है. उसने कहा कि कम से कम उसे जुर्माना लगाकर छोड़ा जा सकता था. सेडेला ने कहा कि यह उसके जीवन का सबसे भयावह अनुभव था. उसने कहा कि वे मुझे चेतावनी भी देकर भी छोड़ सकते थे. अमेरिका के अधिकारियों का कहना है कि उसने अवैधानिक रूप से सीमा पार की. सेडेला ने बताया कि मुझे एक वाहन में बैठाकर ले जाया गया. मेरी सारी ज्‍वैलरी निकाल ली गई. मेरी पूरी तलाशी ली गई. यह सब देखकर मुझे रोना भी आया.

दो दिन बाद ही सेडेला की मां उसका पासपोर्ट और स्टडी वीजा लेकर अमेरिका पहुंची लेकिन अमेरिकी अधिकारियों ने कहा कि इन दस्तावेजों की जांच कनाडा के अधिकारी करेंगे क्योंकि सेडेला कनाडा की नागरिक नहीं है और वह फ्रांस से सीधे कनाडा आई है. आखिरकार इस लालफीताशाही की वजह से दो सप्‍ताह बाद उसे वापस कनाडा लौटने को मिला. सेडेला को चेतावनी देकर छोड़ा गया है और भविष्य में उसके अमेरिका में आने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है.

(तस्वीर- सेडेला रोमन के फेसबुक से)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi